अनजाना रिश्ता

मधु श्रीवास्तव

अनजाना  रिश्ता
(11)
पाठक संख्या − 4613
पढ़िए

सारांश

जून का महीना था ..15 तारीख .लैपटॉप आन किया तो एक मैसेज दिखा ...हाय आपकी प्रोफाइल देखी कुछ अलग है सबसे क्या हम दोस्त बन सकते हैं ?नमन ......कुछ सोचते हुए ममता ने नमन की प्रोफाइल सर्च की सलमान खान के ...
ऋतु श्रीवास्तव
Right kabhi kabhi kuch ristey samaj me nhi aate
Anshu singh
कुछ अनजान रिश्ते ऐसे भी होते है जिन्हें हम सिर्फ मेहसूस कर सकते है । और ये कहानी इन्ही रिश्तों का अंश है।।।।
Prince
बहुत ही सुन्दर कहानी थी कुछ रिश्ते ऐसे भी होते हें :)
कुंदन शर्मा
निराधार रचना
Mukul Gupta
Yeh ulta h ladkiya dil me jagah bna leti h aur chor kar bhi chali jati h bina kisi ehsaas ke..
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.