अधूरी मोहब्बत 5

Abhay Sharma

अधूरी  मोहब्बत  5
(91)
पाठक संख्या − 4763
पढ़िए

सारांश

जय के दिलो और दिमाग़ में  मिशा  ही , बसी हुई थी,  वह सोते, जागते  मिशा के ही, बारे मैं  सोचा करता था,, जय ने अंजाम की  परवाह, ना करते हुए !  मिशा को  अपनी दिल की बात बताने का निश्चय कर  लिया था,,  वह ...
शशि कुशवाहा
interesting...lekin pyar ka ijhar samne krna chahiye phn pr koi krta h kya😜
रिप्लाय
Navya Agarwal
love triangle bnega Kya🤔🤔
Dev Lal Gurjar
बहुत सुंदर लिखते रहे जी हमें भी धन्य करे जी...!
Nida Husain
Very nice story. And waiting for next part 👌👌👌👌👌
रिप्लाय
Modassir Adnan
Next part kab Aa rahi sir.......?
रिप्लाय
Shikha Singh
👌👌👌👌👌👌👏👏👏👏👏
रिप्लाय
Richa Srivastava
hr prem kahani aisi kyu hoti h
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.