अतृप्त आत्मा - भाग -1

Pratibha Rathore

अतृप्त आत्मा - भाग -1
(50)
पाठक संख्या − 1738
पढ़िए

सारांश

यह एक अतृप्त , भटकती ईर्ष्या की आग में जलती आत्मा की कहानी है जिसे मुक्ति नही मिल पाई ,
Akshay Jha
nice story bas ab aage bhi likhe warna story ki essence bhi khatm ho jayegi
रिप्लाय
Santosh Kumar
बहुत अच्छा लगा प्रतिभा जी
Govind Pandey
बढियां कहानी है जी । आगे भी प्रयास जारी रखे जी ।
Sanjay Raghunath Sonawane
बहुत अच्छा लेखन!👍👌💐
आकाश इंदोरे
डरा दिया यार प्रीत
रिप्लाय
Anup Jain
it's really nice.. keep it up sister
रिप्लाय
Dr.Sukhjinder Rai
good
रिप्लाय
RuchiRakesh Tripathi
good job.. keep it up...
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.