अजबबी

geeta kushwaha

अजबबी
(1)
पाठक संख्या − 19
पढ़िए

सारांश

तारा होटल के उस कमरे को खोलने से डर रही थी कि तभी जोर से किसी ने दरवाजे को धक्का दिया ओर वह घबराहट में पीछे हटी ओर बेहोश होकर गिर पड़ी। ...
Nayak Sahab
आगे likho
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.