अंतिम यात्रा.........

Akela musafir ...🚶

अंतिम यात्रा.........
(13)
पाठक संख्या − 37
पढ़िए

सारांश

जी लिया जीवन अब कुछ नाही है बचा, निकली मेरी अंतिम यात्रा.. अच्छा बुरा जो किया साथ अपने लिये जा रहा हू . खतम हुआ जीवन निकाली मेरी अंतिम यात्रा .... सच है ये कैसे ऐसे भुलू . दिया सब ने इतना प्यार ...
Pinky Khurana
बहुत खूब
रिप्लाय
Neeraj Gupta
💐💐👌👌👌
रिप्लाय
पूनम रानी
सिद्ध हस्त लेखनी द्वारा लिखी गयी अंतिम यात्रा कटु सत्य को दर्शाती है।
रिप्लाय
Neelima Kumar
कड़वी हैं पर सच्ची हैं ये पंक्तियाँ। जिसने सबका प्यार अपने में समेट लिया समझो वो तर गया। जीवन का सार समझाती उत्तम रचना के लिए बधाई स्वीकार करें।
रिप्लाय
मोनिका
सुंदर कविता।। यथार्थ के बेहद करीब।। 👌👌
रिप्लाय
अनुपमा झुनझुनवाला
जीवन के अंतिम सत्य को बताती मर्मस्पर्शी, सुन्दर पंक्तियाँ 👌👌👌
रिप्लाय
sushma gupta
heart touching lines 🌹
रिप्लाय
आकांक्षा गुप्ता
कड़वा लेकिन अंतिम सत्य।
रिप्लाय
aparna
मार्मिक
रिप्लाय
सोनाली गडगे
changla prayatn ahe, khup chan
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.