इज़हार से इंतज़ार तक....

शिप्रा मिश्रा

इज़हार से इंतज़ार तक....
(108)
पाठक संख्या − 8710
पढ़िए
Manish Namdeo
बेहद दिलचस्प, कहानी से आप जुड़े रहते है, कड़िया और उनका जोड़ बहुत शानदार है, अंत में मैं चाहूंगा कि वेदिका की मजबूरी भी कार्तिक स्वीकार ले और वेदिका अपनी भूल मान सब सामान्य कर ले, यही सच्चा प्यार और समर्पण होगा👍👌,बहुत सुंदर क्षिप्रा💐
डॉ. मनसा पांडेय
Kartik ko chale Jana chahiy.ab esne jina Sikh liya hai.eski grihsthi ko suraskhit rkhna chahiy
m yadav
love story me happy ending nhi hoti hai...wo bhi sadi kr le..
Sharique Yaseen
Kartik ko apne raaste chale jana chahiye lekin ab sab kuchh badal gya hai aur Shaadi k kaafi din v gujar gaye. Waqt aur halaat badal gye. Lekin Vedika ko ab approach kar ke Kartik ko sab sach bata dena chahiye. Ab aap story poori kijiye.
रिप्लाय
TANUJ TIWARI
o.k
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.