घुरहू ने बड़े जतन से महराजिन अम्मा के घर की एक –एक ईंट जोड़ी थी।

दिल्ली से पूरे दस साल बाद काम सीखकर लौटा हूँ महराजिन अम्मा ! मिस्त्री के काम में पारंगत हो गया हूँ। बाप - दादा मजूरी करते - करते सिधार गए , कला ना आई। परदेश जाने से बचते रहे। कहते - कहते घुरहू ने महराजिन अम्मा का घर बनाने का ठेका ले लिया। रसोईघर घर बनाने में तो उसे महारत हासिल थी। दिल्ली में जो कुछ भी उस्ताद से सीखा था , आज महराजिन के घर उन सब को उतार देने पर आमादा था। गृहप्रवेश और समय ने रसोईघर को इज़ाजत दे दी - खुशबू और प्यार परोसने की। अरे वाह ! आज क्या पकाऊँ नयी रसोई में अम्मा जी ? बहू की आवाज़ सुन अम्मा भी रसोई तक आ गयीं। आंखें मटकाते हुए बोलीं - “बिलकुल सिनेमा माफिक रसोई बनायी है घुरहुआ ने। बाप का हाथ मिल गया विरासत में इसको !”

लोगों से अपने बनायी कला का गुणगान सुन , घुरहू फूला ना समा रहा था। बार –बार अपनी पत्नी रमिया के आगे अपनी हथेलियाँ चूमता , बोलता जाता –“ दादा से मिली ये कला ...भगवान भी ..अपरम्पार है लीला उसकी , बहुत बड़ा कारीगर है वो ! “ पत्नी ने तपाक से पूछ लिया – “ चलो दिखा के लाओ फिर अपनी कला ....बिना देखे कैसे जानूं अपने मरद की कारीगरी। वो तो टोले वालों की जलती मुस्कान से थोड़ा समझ जाती हूँ ..पर एक बार अपनी आँखों देख तो लूं दिल को ठंढक पहुंचेगी।” घुरहू महराजिन के द्वार पर खड़ा था , भीड़ के बीच सकुचाया -सा। लोग जब तारीफ करते तो हाथ जोड़ मुस्कुरा देता। तभी छोटी बहू नज़र आयीं। घुरहू ,रमिया को लेकर महराजिन के घर में दाखिल हुआ। एक –एक बारीकी दिखा कर , गौरवान्वित महसूस कर रहा था ..बोला-“ ई का अभिन रसोई देखना ......कहते हुए बोल पड़ा –

“ मालकिन ऊ हमार मेहरिया हमारा काम देखा चाहत है रसोई का ....”

सुनते ही छोटी बहू के कान गरम हो गए। तेजी से कुछ सोचते हुए रसोई की तरफ भागीं ...घुरहू चिल्लाया कुछ जल गया का मालकिन ....? तेज क़दमों से लौटी छोटी बहू बोल पड़ी – “ इ लो मोबाइल पर फोटो देख लो अपने मरद के कारीगरी की “

घुरहू की पत्नी रमिया नम आँखे नीचे किये हुए बोल पड़ी – “ मैं तो इनसे कबसे बोल रही थी मालकिन - भित्तर छुआ जायेगा तो महराजिन अम्मा परान ले लेंगी।” घुरहू बुदबुदाया - कहता था ना ......भगवान भी , ..अपरम्पार है लीला उसकी....बहुsssssते बड़ा कारीगर है वो !

hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.