शांति की प्रेगनेंसी रिपोर्ट तरुण सकते में आ गया। शांति के चेहरे पर खुशी नूर बनकर चमक रही थी । वह कभी रिपोर्ट तो कभी शांति के चेहरे की तरफ़ देखता । कुँआरी माँ बनने का कोई खौफ़ उसके चेहरे पर नहीं था।

“शांति क्या तुम इस बच्चे को जन्म दोगी?”

पूछता हुआ तरुण हकला –सा गया।

“यह भी कोई पूछने वाली बात है ! तरुण यह बच्चा हमारे प्यार की निशानी है और अब तो सुप्रीम कोर्ट ने भी लिव इन रिलेशन को मान्यता दी है ।“

“लेकिन शांति !”

“लेकिन क्या तरुण ? यही ना कि तुम शादी शुदा हो, सरकारी नौकर हो, इसलिए मुझसे शादी नहीं कर सकते !” कहते हुए उसने कहना ज़ारी रखा,

“जब प्यार किया तो दिल की सुनी, अब दिमाग की क्यों सुन रहे हो ? .... खैर, मैं वैसे भी तुम्हारी ज़िंदगी में विकल्प बनकर नहीं रहूँगी । मैं जिस रूप में हूँ, वैसी ही खुश हूँ । तुम इतना बता दो कि मेरे गर्भ में पल रहा अंश हमारे प्यार की निशानी है या इसे तुम्हारी वासना का स्निग्ध रूप समझूँ ?”

“शांति ! तुम !!”

तरुण निरुत्तर हो गया । कहता भी क्या? उसने विवाहित होते हुए भी शांति से प्रेम- याचना की और आजीवन साथ निभाने का वादा आगे बढ़कर किया । शांति खुले दिमाग की, ईसाई लड़की थी, उसपर भी कुँआरी, तरूण को स्वीकार कर उसने जिस साहस का परिचय दिया था, आज उसका जीवंत रूप तरूण के सामने था । ऐसी स्थिति में तरुण के दिल और दिमाग के बीच द्वंद्व छिड़ा चुका था और वह ऊहापोह की स्थिति में घिरा कभी परिवार के कलह और समाज में प्रतिष्ठा की बात सोचता तो कभी शांति के प्रेम, विश्वास और समर्पण की ।

तरूण और शांति पास- पास खड़े थे, लेकिन दोनों के बीच ख़ामोशी की लंबी दीवार कुछ ही क्षणों में खड़ी हो गई थी । तरुण ने दीवार ढहाने की पहल की और शांति को दोनों हाथों से थामते हुए कहा,

“शांति ! हमारा बच्चा हमारे प्यार की निशानी है । यह इस दुनिया में आएगा भी और अपने पिता के नाम के साथ समाज में सम्मान और अधिकार भी पाएगा । .... मैं थोड़ी देर के लिए किंकर्तव्यविमूढ़ हो गया था, मुझे माफ़ करना ... मैं अपने स्वार्थ के कारण तुम्हें या हमारे बच्चे को सज़ा नहीं दे सकता ।“

शांति तरूण के सीने से लग गई । उसकी आँखों से ख़ुशी के मोती झड़ने लगे । तरूण ने दिल की सुनकर मासूम ज़िंदगी को नष्ट होने से बचा लिया।



hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.