Ram Lakhara Vipul
प्रकाशित साहित्य
1
पाठक संख्या
46
पसंद संख्या
1

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

स्थान:     Sindhari

सारांश:

राम लखारा विपुल श्रृंगार के गीतकार, कवि है। साथ ही साथ लघुकथा और लेख भी लिखते है। राजस्थान में रहने वाले विपुल कवि सम्मेलन, गोष्ठियों और आकाशवाणी में अपनी प्रस्तुति देते रहे है। अब तलक 7 साझा काव्य संकलन प्रकाशित हो चुके है। ब्लाॅगर के रूप में इनके दो ब्लाॅग सक्रिय है- www.kavy-prerna.blogspot.in www.vichar-prerna.blogspot.इन

hindi@pratilipi.com
+91 8604623871
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.