आत्माओं से बातें

पूर्ति खरे

आत्माओं से बातें
(130)
पाठक संख्या − 19836
पढ़िए
Satyendra Dohare
कृपया कहानी लेखन की आत्मा को समझें,क्या आपको वाकई ये एक कहानी लगती है।। प्रतिलिपि पर पहली कहानी पढ़ी और वो भी बे सिर पैर की।।
Suman Yadav
kya ye sacch ho sakta h
Jigyasa Jha
kahani shuru hote hi khatam ho gyi....
Priya Trivedi
good
रिप्लाय
Kunal Shukla
कहीं यह आपकी सच्ची दास्तान तो नहीं?
Gita Gupta
very nice story
रिप्लाय
Finding Kashfur
👍
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.