अभिनव

नितिन श्रीवास्तव

अभिनव
(51)
पाठक संख्या − 16285
पढ़िए
khajan singh
gajab story
रिप्लाय
pooja Geet
वास्तविकता
ABHISHEK KUMAR
nice
रिप्लाय
shweta jha
acchi khani
रिप्लाय
Harsh Saini
साधारण कहानी...कुछ अलग नही not impressive
रिप्लाय
Vijay Hiralal
pyar ko paiso se nahi tola ja sakta.
deepak
bahut achi rachna
रिप्लाय
Ishor Bisht
अद्भुत रचना सकारात्मक सोच । अपने सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं करना चाहिए । प्यार का यह अर्थ नहीं है कि अपनी आत्मा को भूल जाएँ । सादगी गहना है बाकी सब पीतल का ठीकरा है ।
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.