प्रतियोगिता के रिजल्ट की घोषणा हम 28 नवम्बर, 2019 को करेंगे। 
यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है; कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें। जिसके लिंक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें।
 
--------------------------------------------------------------------------------------------------
 
 
प्रतियोगिता के बारे में - :
"कहानियाँ हमें अधिक जीवंत, अधिक मानवीय, अधिक साहसी और अधिक प्यारा इंसान बनाती हैं।"
 
अत्यंत ही हर्ष के साथ हम प्रतिलिपि का वार्षिकोत्सव - 'प्रतिलिपि कथा सम्मान 2019' आपके सामने लेकर आ रहे हैं जिसमें आप किसी भी विषय पर कहानियाँ लिख सकते हैं और हम आशा करते हैं कि पिछले सभी वर्षों की तरह इस वर्ष भी आप सबका स्नेह हमने जरुर मिलेगा। 
तो फिर देर किस बात की; आईये लिखें और 'प्रतिलिपि कथा सम्मान - 2019 का हिस्सा बनें।  
 

पुरस्कार -

1. हम तीन कहानियों को जो पाठकों की पसंद होंगी पुरस्कृत करेंगे। साथ ही एक कहानी जो प्रतिलिपि सम्पादकीय पसंद की होगी पुरस्कृत की जायेगी। 

पाठकों का निर्णय प्रतिलिपि टीम कहानियों की पाठक संख्या, कहानी पर बिताया समय, एवं पाठकों द्वारा दी गई रेटिंग्स के आधार पर करेगी। रचना में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर प्रतिलिपि सम्पादकीय टीम विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है।  

प्रथम विजेता  - 20,000/- (बीस हजार रुपये)

द्वितीय विजेता - 10,000/- (दस हजार रुपये)

तृतीय विजेता - 5000/-  (पाँच हजार रुपये)

सम्पादकीय पसंद - पुरस्कार राशि - 20,000 ( बीस हजार रुपये )

2. दोनों श्रेणियों के  प्रथम विजेता को हम अपने वार्षिक आयोजन 'प्रतिलिपि साहित्य समारोह' में सम्मानित करेंगे। 

3. टॉप 20 कहानियों की हम ई - बुक बनाएंगे।  

4टॉप 40 कहानियों को प्रतिलिपि की तरफ से डिजिटल प्रमाण पत्र दिया जाएगा। 

 

महत्वपूर्ण नियम -

1. कृपया अधिकतम 5 कहानियाँ ही 'भाग ले' बटन से सबमिट करें |(आप चाहें तो 5 से कम कहानियाँ या एक कहानी भी भेज सकते हैं।) 

2. आपकी सबमिट की गयी कहानियाँ स्व-लिखित होनी चाहिये।(अन्य किसी व्यक्ति की कॉपी की हुई कहानियाँ सबमिट करना कानूनी दृष्टि से अपराध है।)

3. कहानियाँ प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। हालांकि अन्य किसी भी प्लेटफॉर्म / मैगज़ीन / न्यूज़-पेपर में पब्लिश हुई कहानियाँ सबमिट कर सकते है। या फिर 15 जून  2019 तक में नयी कहानियाँ लिखकर यहाँ सबमिट कर सकते हैं।  

4. कहानियों की न्यूनतम शब्द सीमा 500 शब्द है; अधिकतम शब्द - सीमा नहीं है, अधिकतम सीमा आपकी इच्छा और कहानी की मांग पर है। 

5. विषय की कोई पाबंदी नहीं है ; आप अपने मनपसन्द विषय पर कहानी लिखकर सबमिट कर सकते हैं |

 

महत्वपूर्ण तिथि -

1. कहानियाँ सबमिट करने की अंतिम तिथि - 15 जून  2019.

2. प्रतिलिपि हिंदी टीम की तरफ से कहानियाँ प्रकाशन होने की तिथि - 25 जून 2019. इसी दिन हम परिणाम की तिथि की भी घोषणा करेंगे। 

 

कैसे भाग लें? -

1.प्रतियोगिता का हिस्सा बनने के लिए इसी पेज पर नीचे 'भाग लें ' बटन पर क्लिक करें। भाग लेने की अंतिम तिथि 15 जून  2019 है। 

2.आपकी सबमिट की गई कहानियाँ इसी पेज पर नीचे सबमिट हुई दिखेगी। हमारी हिन्दी टीम आपकी कहानियों को 25 जून 2019 तक प्रकाशित करेगी। प्रकाशन होने पर आपको मेल मिलेगा और आपकी कहानियाँ इस पेज पर सभी प्रविष्टियों के साथ लाइव होगी। 

 

कोई समस्या है? - 

veena@pratilipi.com पर लिख भेजिए अपनी समस्या, जिज्ञासा या सुझाव !

हम आपकी मदद करने के लिए सदैव तत्पर हैं।  

 

क्या हो ग़र आपको इतिहास बदलने का मौका मिले ? आप राजा के बारे में लिखेंगे या प्रजा के बारे में ?
रनिवास में रानियों के रहस्य बताएंगे या रहस्य छिपाने वाली दासियों की दशा ?
सम्राट अशोक जैसे महान भारतीय शासकों की शांति के बारे में लिखेंगे या युद्ध के बारे ? 1857 की भारतीय क्रांति के बारे में लिखेंगे या 1947 के विभाजन के बारे में ? क्या आप घुमा सकते हैं समय का पहिया और लिख सकते हैं इतिहास की कहानियाँ ?
यदि हाँ, तो भाग लीजिए प्रतिलिपि की ऐतिहासिक फिक्शन प्रतियोगिता में और जीतिए ग्यारह हज़ार तक के पुरस्कार !

प्रतियोगिता के बारे में - :
ऐतिहासिक फिक्शन या हिस्टॉरिकल फिक्शन साहित्य की एक ऐसी विधा है जिसमें इतिहास के इर्द - गिर्द ही काल्पनिक कहानियाँ बुनी जाती हैं। आप इतिहास की कोई भी घटना या कोई भी किरदार उठाकर उसके इर्द - गिर्द अपनी कहानी रच सकते हैं।
उदाहरण के लिए जैसे हिंदी के प्रसिद्ध लेखक यशपाल का उपन्यास 'अमिता' जो सम्राट अशोक के युद्ध और कलिंग की राजकुमारी पर लिखा गया है।

पुरस्कार - :
हम चार कहानियों को पुरस्कृत करेंगे जिसका निर्णय सम्पादक मंडल द्वारा किया जाएगा।
प्रथम - 5000/-
द्वितीय - 3000/-
तृतीय - 2000/-
चतुर्थ - 1000/-

ज़रूरी नियम -
1. आप अधिकतम 5 कहानियाँ या 5 से कम कहानियाँ सब्मिट कर सकते हैं।
2. कहानियाँ प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। हालांकि अन्य किसी भी प्लेटफॉर्म / मैगज़ीन / न्यूज़-पेपर में पब्लिश हुई कहानियाँ सबमिट कर सकते है। या फिर 8 मई 2019 तक में नयी कहानियाँ लिखकर यहाँ सबमिट कर सकते हैं।
3. आपकी सबमिट की गयी कहानियाँ स्व-लिखित होनी चाहिये। (अन्य किसी व्यक्ति की कॉपी की हुई कहानियाँ सबमिट करना कानूनी दृष्टि से अपराध है।)
4. कोई शब्दसीमा नहीं है।

कैसे भाग लें ? 
1.प्रतियोगिता का हिस्सा बनने के लिए इसी पेज पर नीचे 'हिस्सा लें' बटन पर क्लिक करें। भाग लेने की अंतिम तिथि 8 मई 2019 है।
2.आपकी सबमिट की गई कहानियाँ इसी पेज पर नीचे सबमिट हुई दिखेगी। हमारी हिंदी टीम आपकी कहानियों को 10 मई 2019 तक प्रकाशित करेगी। प्रकाशन होने पर आपको मेल मिलेगा और आपकी कहानियाँ इस पेज पर सभी प्रविष्टियों के साथ लाइव होगी।

कोई समस्या है ?
hindi@pratilipi.com पर लिख भेजिए अपनी समस्या, जिज्ञासा या सुझाव !
हम आपकी मदद करने के लिए सदैव तत्पर हैं :)

रिजल्ट यहाँ देखें 

_______

"नन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती है
चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है
मन का विश्वास रगों में साहस भरता है
चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता है
आख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।"
- कवि सोहनलाल द्विवेदी जी की प्रसिद्ध कविता का अंश, हमें प्रेरित करता है कि तमाम मुश्किलों के बाद भी हमें हार न मानते हुए अपने लक्ष्य की ओर बढ़ना चाहिए।
ऐसी ही प्रेरणा की तलाश कर रहें हैं हम, लिखिए अद्भुत हौसले की कहानी जो किसी भी निराश मन के लिए प्रेरणा साबित हो और जीतिए आकर्षक पुरस्कार !

पुरस्कार - :
विजेताओं का चयन संपादक मंडली द्वारा किया जाएगा।
प्रथम : 5000/-
द्वितीय : 3000/-
तृतीय : 2000/-

ज़रूरी बातें - :
1. कहानियाँ प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। हालांकि अन्य किसी भी प्लेटफॉर्म / मैगज़ीन / न्यूज़-पेपर में पब्लिश हुई कहानियाँ सबमिट कर सकते है। या फिर 10 अप्रैल 2019 तक में नयी कहानियाँ लिखकर यहाँ सबमिट कर सकते है।
2. आपकी सबमिट की गयी कहानियाँ स्व-लिखित होनी चाहिये। (अन्य किसी व्यक्ति की कॉपी की हुई कहानियाँ सबमिट करना कानूनी दृष्टि से अपराध है।)
3. कोई शब्दसीमा नहीं है।
4. परिणाम की तारीख : 15 जून, 2019

कैसे भाग लें ?
1.प्रतियोगिता का हिस्सा बनने के लिए इसी पेज पर नीचे 'हिस्सा लें' बटन पर क्लिक करे। आप अधिकतम 5 कहानियाँ ही सब्मिट कर सकते हैं। भाग लेने की अंतिम तिथि 10 अप्रैल 2019 है। 
2.आपकी सबमिट की गई कहानियाँ इसी पेज पर नीचे सबमिट हुई दिखेगी। हमारी हिंदी टीम आपकी कहानियों को 12 अप्रैल, 2019 को प्रकाशित करेगी। प्रकाशन होने पर आपको मेल मिलेगा और आपकी कहानियाँ इस पेज पर सभी प्रविष्टियों के साथ लाइव होगी।

कोई समस्या है ?
hindi@pratilipi.com पर लिख भेजिए अपनी समस्या, जिज्ञासा या सुझाव !
हम आपकी मदद करने के लिए सदैव तत्पर हैं :)

यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है। हम उन सभी पाठकों व लेखकों के आभारी हैं जिन्होंने इस प्रतियोगिता में भाग लिया। 7 दिनों तक चली इस प्रतियोगिता में हमें एक से बढ़कर एक रचनाएं पढ़ने का अवसर मिला। सातों दिनों के परिणाम नीचे दिए गए हैं, किन्तु हमारे लिए सभी प्रतिभागी विजेता ही हैं जिन्होंने इस पहल को सार्थक बनाया।

इस प्रतियोगिता में शामिल हुईं सभी रचनाओं को यहाँ पढ़ें 

-----------------

"हताश लोगों से
बस एक सवाल 
हिमालय ऊँचा
या
बछेन्द्री पाल?"

- कवि शैलेय जी की यह कविता हमें माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली प्रथम भारतीय महिला बछेंद्री पाल की हिम्मत और जज़्बे की याद दिलाती है। ऐसा ही जज़्बा और जोश हर उस स्त्री के पास होता है जो रूढ़ियों से लड़कर आगे बढ़ती है। इन्हीं स्त्रियों के सम्मान में पेश है एक अनोखी प्रतियोगिता - #ओवुमनिया - चल बदलें दुनिया !
7 मार्च 2019 से 13 मार्च तक यह प्रतियोगिता चलेगी।
 
कैसे भाग लें ?
 
1.यह प्रतियोगिता चित्र पर आधारित होगी। प्रतिदिन इस पेज पर स्त्रियों से जुड़ा एक नया चित्र दिया जाएगा (आज का चित्र है 'स्त्री - जीवन का अंतिम पड़ाव'')
 यह चित्र आज दोपहर 12 बजे से कल दोपहर 12 तक इस पेज पर रहेगा। 
 
आपको इसी चित्र को देखकर कोई कहानी या कविता लिखनी होगी। 
 
2. कहानी या कविता के लिए हमारी ओर से कोई शब्दसीमा तय नहीं की जा रही है। बस चित्र देखिए और अपनी कल्पना को उड़ान भरने दीजिए। लिख डालिए कुछ ऐसा जो मन को छू जाए और हम आपकी लेखनी के दीवाने हो जाएँ !
 
3. आपकी कहानी का जो भी शीर्षक हो, उसके आगे #ओवुमनिया ज़रूर लिखें, तभी आपकी कहानी प्रतियोगिता में शामिल मानी जाएगी। उदाहरण के लिए, शीर्षक - उड़ान #ओवुमनिया 
 
4. आप अधिकतम 5 रचनाऍं पब्लिश कर सकते हैं। 

5. इस बार कोई 'भाग लें' बटन नहीं है। आपको अपनी रचना सीधे अपनी प्रतिलिपि प्रोफाइल से पब्लिश करनी है। 
[ सेल्फ पब्लिशिंग से जुड़ी जानकारी के लिए इस लिंक पर जाएँ - https://hindi.pratilipi.com/story/7NBmUWmJUe5L ]
 
6. रिज़ल्ट की घोषणा - अगले दिन ही ! उदाहरण के लिए, आज आपने इस चित्र को देखकर जो भी कहानी लिखी, उसके परिणाम हम अगले दिन शाम तक घोषित कर देंगे। विजेताओं का चयन संपादक मंडली द्वारा किया जाएगा। इसी पेज पर रोज़ शाम 7 बजे आप परिणाम देख पाएंगे। 
मतलब रोज़ लिखिए और रोज़ जीतिए ! :)
 
पुरस्कार -
1. प्रथम पुरस्कार - 1000/-
साथ ही प्रतिलिपि की ओर से आपकी रचना का  :ऑडियो वर्ज़न लॉन्च किया जाएगा। 
 
2. द्वितीय पुरस्कार - 500/ -
साथ ही प्रतिलिपि की ओर से आपकी रचना का ऑडियो वर्ज़न लॉन्च किया जाएगा।
 
3. प्रतिदिन के टॉप पांच प्रतिभागियों को डिजिटल प्रमाण पत्र प्रदान किये जाएँगे। 
 
कोई समस्या है ?
hindi@pratilipi.com पर लिख भेजिए अपनी समस्या, जिज्ञासा या सुझाव !
हम आपकी मदद करने के लिए सदैव तत्पर हैं :)
 
तो किस बात का इंतज़ार है ? उठाइए क़लम और बदलिए अपने शब्दों से यह दुनिया !
#ओवुमनिया 
 
-----------------
परिणाम : 13  मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
१. प्रथम पुरस्कार - सुनीता पवार, कहानी : सिरफिरी बुढ़िया
२.  द्वितीय पुरस्कार - डॉ. चंद्रेश कुमार छतलानी, कविता : स्त्री 
 ३. तृतीय पुरस्कार - सुनीता माहेश्वरी, कहानी : आशीर्वाद
४. चतुर्थ पुरस्कार - डॉ. नीलू नीलपरी, कहानी : कर्ज़दार 
 ५. पंचम पुरस्कार - सबा, कविता : औरतें हमें ज़िन्दगी के संघर्ष सिखाती हैं
 
परिणाम : 12 मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
 १. प्रथम पुरस्कार - - सरिता स्निग्ध ज्योत्स्ना, कविता : बड़ी उंगलियाँ, छोटी उंगलियाँ
 २.  द्वितीय पुरस्कार - सदफ सानिया, कहानी : जल अम्मा
 ३. तृतीय पुरस्कार - रंजना जायसवाल, कविता : मेरा बेटा झल्लाता है
 ४. चतुर्थ पुरस्कार - नूपुर शांडिल्य, कविता : मैं माँ हूँ इसकी
 ५. पंचम पुरस्कार - सौम्या जौहरी, कहानी : बरगद की चुड़ैल 
 
परिणाम : 11 मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
१. प्रथम पुरस्कार - सीमा जैन, कहानी : तलाश 
२.  द्वितीय पुरस्कार - ब्रजेश कुमार सिंह, कविता : तेजाब 
३. तृतीय पुरस्कार - प्रिया कुमारी, कहानी : आखिर क्यों और कब तक? 
४. चतुर्थ पुरस्कार - अमिताभ कुमार "अकेला", कहानी : अबोध 
५. पंचम पुरस्कार - आलोक कुमार, कविता : आँखें 
 
परिणाम : 10 मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
१. प्रथम पुरस्कार - कायनात ख़ान, कहानी : छू लो तुम आसमान! 
२.  द्वितीय पुरस्कार - प्रतिभा पांडे,कहानी : मुखौटे
३. तृतीय पुरस्कार - पद्मा अग्रवाल, कहानी : मुक्केबाज रिया
४. चतुर्थ पुरस्कार - चंद्रा फुलार, कविता : कुछ ढीठ लड़कियाँ
५. पंचम पुरस्कार - मनीष शुक्ला, कहानी : उम्मीदों का चौका
 
परिणाम : 9 मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
१. प्रथम पुरस्कार - पवनेश ठकुराठी, कहानी : पंखों वाली लड़कियाँ
२.  द्वितीय पुरस्कार - गर्विता आचार्य "संवेदनशील", कहानी : विजेता
३. तृतीय पुरस्कार - अंकिता सिंह, कहानी : प्रेरणा
४. चतुर्थ पुरस्कार - भरत ठाकुर, कहानी : मयूरी
५. पंचम पुरस्कार - आशीष कुमार त्रिवेदी, कहानी : शुभ दिन
 
परिणाम : 8 मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
१. प्रथम पुरस्कार - केशव चंद्र जोशी, कहानी : दुल्हन और दहेज
२.  द्वितीय पुरस्कार - विजयकांत वर्मा, कविता : दुल्हन:तीन क्षणिकाएं
३. तृतीय पुरस्कार - नीरज  शर्मा, कहानी : दुल्हन के पिता का तोहफा 
४. चतुर्थ पुरस्कार - नेहा सिन्हा, कहानी : धमाकेदार मॉर्डन दुल्हन
५. पंचम पुरस्कार - आशा शुक्ल, कहानी : जनम-जनम-के-साथी
 
परिणाम : 7 मार्च 2019 के चित्र का परिणाम :
टॉप पांच प्रतिभागी - :
१. प्रथम पुरस्कार - प्रेरिका गुप्ता, कविता : आज़ादी #ओवुमनिया
२.  द्वितीय पुरस्कार - ईशा अग्रवाल, कहानी : सपने रे! #ओवुमनिया
३. तृतीय पुरस्कार - कविता नागर, कविता : वो लड़की#ओवुमनिया
४. चतुर्थ पुरस्कार - ऋत्विज शुक्ला, कविता : सुकन्या तुमको नमन विशेष ! #ओवुमनिया
५. पंचम पुरस्कार - ऋतु बवा, कहानी : नयना 

यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है; कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें। जिसके लिंक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें। प्रतियोगिता के रिजल्ट की घोषणा हम 29 जुलाई, 2019 को करेंगे। 

-----------------

ये इश्क नहीं आसां इतना ही समझ लीजै 

इक आग का दरिया है और डूब के जाना है
काफी मशहूर शे'र है यह और सभी इसे जानते भी हैं। प्रेम ,प्यार , इश्क हर दिल की आरजू होती है और यह सबके जीवन में कभी न कभी आता ही है।
ऋतुराज वसंत के आगमन के साथ ही धरती का प्रेम सुन्दरतम रूपों में प्रस्फुटित हो उठता है और मजे की बात यह कि आज के युवा दिलों की धड़कन 'वेलेन्टाइन डे' भी इसी मौसम का एक ख़ास दिन है। हालांकि, प्रेम के लिए कोई एक दिन कभी तय नहीं किया जा सकता ; लेकिन अगर प्रेमोत्सव की बात हो तो कोई एक दिन तय कर लेना और उसे गहराई से जीना इस भागम - भाग भरे जीवन में सुकून के पल दे जाता है। तो आइये हम भी प्रेमोत्सव मनाएं और लिख डालें प्रेम कहानियाँ ।
आप अपनी प्रेम कथाएं ' भाग लें ' ऑप्शन से हमें 5 मार्च 2019 तक सबमिट कर दें जिसे हम 12 मार्च , 2019 को प्रतियोगिता पेज पर पब्लिश कर देंगे।

पुरस्कार -

हम 5 कहानियों को पुरस्कृत करेंगे जो पाठकों की पसंद की होंगी और जिनका आधार पाठक संख्या, रेटिंग और रचना पर बिताया गया पाठकों का समय होगा । (लेकिन, रचना में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर प्रतिलिपि सम्पादकीय टीम विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है।)
प्रथम पुरस्कार - 10,000/-
द्वितीय पुरस्कार - 8,000/-
तृतीय पुरस्कार - 6,000/-
चतुर्थ पुरस्कार - 4,000/-
पंचम पुरस्कार - 2,000/-

महत्वपूर्ण नियम -

1. कृपया अधिकतम 5 कहानियाँ ' भाग लें ' बटन से सबमिट करें | ( आप चाहें तो 5 से कम कहानियाँ या एक कहानी भी सबमिट कर सकते हैं। )
2. कहानियाँ प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। हालांकि अन्य किसी भी प्लेटफॉर्म / मैगज़ीन / न्यूज़-पेपर में पब्लिश हुई कहानियाँ सबमिट कर सकते है। या फिर 5 मार्च 2019 तक में नयी कहानियाँ लिखकर यहाँ सबमिट कर सकते है।
3. कहानी भेजने की अंतिम तिथि - 5 मार्च 2019 (इस तारीख के बाद भेजी गई प्रविष्टि हम इस प्रतियोगिता में शामिल नहीं करेंगे। )
4. आपकी सबमिट की गयी कहानियाँ आपकी स्व-लिखित होनी चाहिये। (अन्य किसी व्यक्ति की कॉपी की हुई कहानियाँ सबमिट करना कानूनी दृष्टि से अपराध है।)
5. कहानियों की न्यूनतम शब्द सीमा 500 शब्द है; अधिकतम शब्द-सीमा नहीं है, अधिकतम सीमा आपकी इच्छा और कहानी की मांग पर है।
6. 12 मार्च ,2019 को हम आपकी कहानियाँ प्रतियोगिता पेज पर प्रकाशित कर देंगे।

महत्वपूर्ण तिथि -

1. कहानियाँ सबमिट करने की अंतिम तिथि - 5 मार्च 2019
2. प्रतिलिपि हिंदी टीम की तरफ से कहानियाँ प्रकाशन होने की तिथि - 12 मार्च , 2019
3. प्रतियोगिता के परिणाम की तिथि - 29 जुलाई, 2019 

कैसे भाग लें ?

1.प्रेम कथा प्रतियोगिता का हिस्सा बनने के लिए इसी पेज पर नीचे 'भाग लें' बटन पर क्लिक कर आप पहली एक कहानी लिखकर या फिर पेस्ट कर के सबमिट कर सकते है। अपनी पहली कहानी का शीर्षक, कहानी की श्रेणी तथा कवर इमेज आदि लगाकर सबमिट कर दें। इस तरह आप बारी-बारी से एक-एक कर अपनी 5 कहानियाँ सबमिट करें।
2.आपकी सबमिट की गई कहानियाँ इसी पेज पर नीचे सबमिट हुई दिखेगी। हमारी हिंदी टीम आपकी कहानियों को 12 मार्च, 2019 को प्रकाशित करेंगी। प्रकाशन होने पर आपको मेल मिलेगा और आपकी कहानियाँ इस पेज पर सभी प्रविष्टियों के साथ लाइव होगी।
----------

आपको प्रतियोगिता के संबंधी कोई भी मदद जरुरी है तो हमें hindi@pratilipi.com पर मेल सकते है।

ऑल द बेस्ट !

कृपया प्रतियोगिता का रिजल्ट यहाँ देखें । 

 

यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है; कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें। जिसके लिंक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें। प्रतियोगिता के रिजल्ट की घोषणा हम 17 मई, 2019 को करेंगे। 

---------------

भावुकता अंगूर लता से खींच कल्पना की हाला,

कवि साकी बनकर आया है भरकर कविता का प्याला।  

 
पिछले वर्षों की तरह ही इस वर्ष भी हम आपके लिए लेकर आये हैं - प्रतिलिपि कविता सम्मान - 2019
जैसा कि आप सभी जानते हैं यह हमारा वार्षिक आयोजन है और हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी हम आपके उत्साहपूर्ण सहयोग की आशा रखते हैं l आप अपनी अधिकतम 5 कवितायें सबमिट कर सकते हैं | कवितायें सबमिट करने की अंतिम तिथि होगी 5 फरवरी, 2019
 
पुरस्कार - 
हम 4 कविताओं को पुरस्कृत करेंगे जिन्हें हमारे निर्णायकों की टीम चुनेगी। निर्णायक आपकी कवितायेँ पढ़कर गुणवत्ता, भाषा, व्याकरण आदि मापदंड के आधार पर विजेता घोषित करेंगे l  
 
प्रथम पुरस्कार - 5000/-
द्वितीय पुरस्कार - 3000/- 
तृतीय पुरस्कार - 2000/- 
चतुर्थ पुरस्कार - 1000/- 
 
- प्रथम पुरस्कार प्राप्त कविता को हम ' प्रतिलिपि साहित्य समारोह ' में सम्मानित करेंगे l 
- टीम की तरफ से हम प्रथम बीस कविताओं को डिजिटल सर्टिफ़िकेट भी भेजेंगे। 
- पुरस्कार राशि विजेताओं के अकाउंट में ऑनलाइन जमा करा दी जायेगी।
 

महत्वपूर्ण नियम -

1. आप अधिकतम 5 कवितायें सबमिट कर सकते है। (आप चाहें तो 5 से कम कवितायें भी सबमिट कर सकते हैं l) 

3. आपकी सबमिट की गयी कविता आपकी स्व-लिखित होनी चाहिये। (अन्य किसी व्यक्ति की कॉपी की हुई कविता सबमिट करना कानूनी दृष्टि से अपराध है l)

4. कवितायें प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। हालांकि अन्य किसी भी प्लेटफॉर्म / मैगज़ीन / न्यूज़-पेपर में पब्लिश हुई  कविता सबमिट कर सकते है। या फिर 5 फरवरी, 2019 तक में नयी कविताये लिखकर यहाँ सबमिट कर सकते है।  

5. कविताओं में शब्द या पंक्ति की संख्या की कोई मर्यादा नहीं है।  

 

महत्वपूर्ण तिथि -

1. कवितायें सबमिट करने की अंतिम तिथि - 5 फरवरी, 2019

2. प्रतिलिपि हिंदी टीम की तरफ से कवितायें प्रकाशन होने की तिथि - 14  फरवरी, 2019

3. प्रतियोगिता का परिणामकी तारीख : 17 मई, 2019 

 

कैसे भाग लें ?
 
1.प्रतिलिपि कविता सम्मान 2019 का हिस्सा बनने के लिए इसी पेज पर नीचे 'भाग लें' बटन पर क्लिक कर आप पहली एक कविता लिखकर या फिर पेस्ट कर के सबमिट कर सकते है। अपनी पहली कविता का शीर्षक, कविता, कविता की श्रेणी तथा कवर इमेज आदि लगाकर सबमिट कर दें। इस तरह आप बारी - बारी से एक - एक कर अपनी 5 कवितायें सबमिट करें l 
 
2.आपकी सबमिट की गई कवितायें इसी पेज पर नीचे सबमिट हुई दिखेगी। हमारी हिंदी टीम आपकी कविताओं को 14  फरवरी, 2019 को प्रकाशित करेंगी। प्रकाशन होने पर आपको मेल मिलेगा और आपकी कविताये इस पेज पर सभी प्रविष्टियों के साथ लाइव होगी। 

----------

आपको प्रतियोगिता के संबंधी कोई भी मदद जरुरी है तो हमें hindi@pratilipi.com पर मेल सकते है।  

ऑल द बेस्ट ! 

प्रतियोगिता के परिणाम यहाँ देखें 
यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है; कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें। जिसके लिंक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें।
 ---------------------------------- 

खाना जीवन के बने रहने की अत्यंत महत्वपूर्ण शर्त और अच्छा खाना मन की खुशियों को सेलिब्रेट करने का एक बेहतरीन तरिका | चाहे कोई पर्व - त्यौहार हो या कोई ख़ास आयोजन हम सबसे पहले  उस मौके पर बनाये जाने वाले व्यंजनों के बारे में सोचते हैं | इसके साथ ही हर हाथ की अपनी अलग खुशबु होती है | एक ही व्यंजन दो लोग अलग - अलग स्वाद के बना लेते हैं | यह जो आपकी खासियत है बनाने की , कुछ् नया रचने की इसे हम एक ऐसी कला मानते हैं जो मानव - जीवन के लिए बहुत जरुरी है | आईये इस प्रतियोगिता के द्वारा अपनी इस कला की सुगंध दूर - दूर तक फैलाएं | तो लिख डालिए अपने इस हुनर की रेसिपी और हमें उसकी एक तस्वीर के साथ भेज दीजिये | लेकिन ध्यान रहे, आपकी रेसिपी मौलिक हो कहीं से कॉपी की हुई ना है | जैसे - आप अगर आलू दम की रेसिपी हमें लिख भेजते हैं तो उसमें भी कुछ ऐसा हो जो सबसे अलग और मौलिक हो |

रेसिपी हमें मेल नहीं करनी है; बल्कि इस पेज के नीचे आ रहे 'हिस्सा लें' बटन पर क्लिक कर खुद ही सबमिट कर देनी है।यह मेल भेजने जितना ही आसान है |जैसे हम पहले एक निश्चित तारीख के पहले आपकी रचनाएं प्रकाशित करते थे वैसे ही आपकी सबमिट की गई रचनायें हम दी गई तारीख को एक साथ आपकी प्रोफाइल और प्रतियोगिता पेज पर प्रकाशित कर देंगे।    
 
महत्वपूर्ण - 
रेसिपी  सबमिशन की अंतिम तिथि है -- 31 दिसम्बर, 2018 
 
नियम -
1. कृपया प्रतियोगिता हेतु अधिकतम 5 रेसिपी  ही सबमिट करें। एक एन्ट्री में मात्र एक रेसिपी  डालें, दूसरी रेसिपी  के लिए दूसरी एन्ट्री करें।  
2 .ध्यान रखें कि ' किचन स्टार ' हेतु सबमिट की गई रेसिपी प्रतिलिपि पर आपने पहले से नहीं पोस्ट की हो | अन्य किसी भी माध्यम में प्रकाशित हुई या अप्रकाशित रेसिपी आप सबमिट  कर सकते हैं |
 
पुरस्कार -
सर्वश्रेष्ठ तीन रेसिपी को हम पुरस्कृत करेंगे जिन्हें हमारे निर्णायक चुनेंगे। निर्णायक पाक कला के जानकार रहेंगे।    
 
प्रथम पुरस्कार - 1500/-
द्वितीय पुरस्कार - 1000/-
तृतीय पुरस्कार - 500/- 
 
ऐसे सबमिट करें -
1. कृपया आपकी रचना "हिस्सा लें'" बटन पर क्लिक करके एक- के बाद एक सबमिट करते जाये।  ये बहुत आसान स्टेप्स है। (अगर कहीं कोई परेशानी हो तो कृपया इस लिंक पर क्लिक कर प्रकाशन की पूरी प्रक्रिया अवश्य पढ़ें, या फिर हेल्पलाईन नंबर/मेल का संपर्क करें) 
2.आपकी रेसिपी  सबमिट होते ही इसी पेज पर नीचे दिखाई देगी; जिसे हम प्रतियोगिता तिथि को प्रकाशित कर देंगे। एक बार जो रेसिपी  सबमिट हुई है वह हमारे द्वारा 8 जनवरी 2019 को पब्लिश होने के बाद ही पाठकों को दिखेगी।  
 
 
Helpline / संपर्क - 
मेल आईडी - hindi@pratilipi.com
फोन नंबर -- 8604623871
 
 
यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है; इसके लिए कोई रचना अब न भेजें -- कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें।  जिसके लिंक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें।
 
प्रतियोगिता के रिजल्ट - यहाँ देंखे 
 
प्रतिलिपि लघुकथा सम्मान - 2018 
गागर में सागर !
 
 
सतसइया के दोहरा ज्यों नावक के तीर।
देखन में छोटे लगैं घाव करैं गम्भीर।।
 
यह बात हम लघुकथाओं के लिए भी आज बेहिचक कह सकते हैं।  
 
'लघुकथा ' साहित्य में ऐसी कथा - विधा के रूप में विकसित हुई है जो कम से कम शब्दों  में ही अपनी बात पूरी सम्वेदना के साथ कहने में सक्षम है।  
पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी हम ' प्रतिलिपि लघुकथा सम्मान ' का आयोजन कर रहे हैं।  लेकिन,इस बार आपको लघुकथायें हमें मेल नहीं करनी है; बल्कि इस पेज के नीचे आ रहे 'हिस्सा लें' बटन पर क्लिक कर खुद ही सबमिट कर देनी है।यह मेल भेजने जितना ही आसान है |जैसे हम पहले एक निश्चित तारीख के पहले आपकी रचनाएं प्रकाशित करते थे वैसे ही आपकी सबमिट की गई रचनायें हम दी गई तारीख को एक साथ आपकी प्रोफाइल और प्रतियोगिता पेज पर प्रकाशित कर देंगे।  
 
 
महत्वपूर्ण
1. लघुकथा सबमिशन की अंतिम तिथि है -- 30 नवम्बर, 2018 
2. हम  6 दिसंबर, 2018 को आपकी लघुकथायें पब्लिश करेंगे। 
3. प्रतियोगिता के  रिजल्ट की घोषणा हम 28 फरवरी 2019 को करेंगे |
 
 
नियम -
1. कृपया प्रतियोगिता हेतु अधिकतम 5 लघुकथायें  ही सबमिट करें। एक एन्ट्री में मात्र एक लघुकथा डालें, दूसरी लघुकथा के लिए दूसरी एन्ट्री करें।  
2. लघुकथायें 500 शब्दों से अधिक की ना हों।  
3. "प्रतिलिपि लघुकथा सम्मान" हेतु सबमिट की गई लघुकथायें प्रतिलिपि पर पहले से आपकी प्रोफ़ाइल में प्रकाशित नहीं होनी चाहिए। हालाकिं अन्य कोई भी माध्यम/प्लेटफॉर्म/मैगज़ीन में प्रकाशित लघुकथा आप सबमिट कर सकते है।  
 
 
पुरस्कार -
सर्वश्रेष्ठ  तीन लघुकथाओं को हम पुरस्कृत करेंगे जिन्हें हमारे निर्णायक चुनेंगे। निर्णायक लघुकथा विधा के जानकार रहेंगे।    
प्रथम पुरस्कार - 5000/-
द्वितीय पुरस्कार - 3000/-
तृतीय पुरस्कार - 2000/- 
प्रथम पुरस्कार प्राप्त लघुकथा "प्रतिलिपि साहित्य समारोह" में सम्मानित की जायेगी।  
 
 
 
ऐसे सबमिट करें -
1. कृपया आपकी रचना "हिस्सा लें'" बटन पर क्लिक करके एक- के बाद एक सबमिट करते जाये।  ये बहुत आसान स्टेप्स है। (अगर कहीं कोई परेशानी हो तो कृपया इस लिंक पर क्लिक कर प्रकाशन की पूरी प्रक्रिया अवश्य पढ़ें, या फिर हेल्पलाईन नंबर/मेल का संपर्क करें) 
 
2.आपकी रचना सबमिट होते ही इसी पेज पर नीचे दिखाई देगी; जिसे हम प्रतियोगिता तिथि को प्रकाशित कर देंगे। एक बार जो रचना सबमिट हुई है वह हमारे द्वारा 6 दिसंबर, 2018 को पब्लिश होने के बाद ही पाठकों को दिखेगी।  
 
अगर आप ' भाग लें ' बटन देख पाने में असमर्थ हैं तो प्लीज अपना ऐप प्ले स्टोर से अपडेट कर लें|
 
संपर्क - 
मेल आईडी - hindi@pratilipi.com
फोन नंबर -- 8604623871

 

प्रतियोगिता का रिजल्ट : यहाँ क्लिक करें 

----

 

कोई कहानी सुनाओ बड़ा अन्धेरा है

'प्रतिलिपि कथा सम्मान' का कारवाँ 2015 से चलते हुए आज 2018 तक पहुँच गया है।  अत्यंत ही हर्ष का विषय है यह।  जब हम अपने इस सलाना 'कथा - उत्सव' के पिछले वर्षों को देखते हैं तो पाते हैं कि आप सबके उत्साह ने हमारे इस कदम में निरंतर तेजी भरी है। इस वर्ष भी हम आप से ऐसी ही उम्मीद करते हैं -- आप हमारे इस वार्षिक आयोजन में हमेशा की तरह ही पूरे उत्साह से भाग लेते हुए हमारा मनोबल बनाये रखेंगे।  

थोड़ी समझ विकसित होते ही इंसान जिस विधा से पहली बार परिचित होता है वह 'कहानी' है और तो कहानी कहना और सुनना हम सबको आता ही है |

तो फिर देर किस बात की; आईये लिखें और प्रतिलिपि के वार्षिकोत्सव - 'प्रतिलिपि कथा सम्मान 2018' का हिस्सा बनें | इस स्पर्धा में आप कोई भी विषय पर लिखी हुई कहानियाँ हमें भेज सकते है।  

 

कैसे भेंजें?:

१) अपनी कहानियाँ वर्ड फ़ाइल में एक साथ रखकर hindi@pratilipi.com पर मेल करें।  अगर मेल के अंदर सीधा कहानियाँ पेस्ट कर भेजें तो वह भी मान्य है।  

२) कृपया मेल के विषय में 'प्रतिलिपि कथा सम्मान हेतु'  लिखना न भूलें।  ताकि हमारी टीम को पता चले की ये  कहानियाँ कथा-सम्मान  के लिये ही है।  

 

महत्वपूर्ण -

1. कृपया अधिकतम 5 कहानियाँ ही भेजें  या 'हिस्सा ले' बटन से सबमिट करें | ( आप चाहें तो 5 से कम कहानियाँ या एक कहानी भी भेज सकते हैं। ) आपकी रचना यूनिकोड फॉण्ट में लिख़कर ही भेजे या 'हिस्सा ले' बटन से सबमिट करें।  

2. कहानियाँ प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए।  

3. कहानी भेजने की अंतिम तिथि - 31 जुलाई 2018. (इस तारीख के बाद भेजी गई प्रविष्टि हम इस प्रतियोगिता में शामिल नहीं करेंगे। )

4. आप अपनी कहानियों के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  (क्रिएटिव कॉमन्स वाले कवर ईमेज लेने के लिए आप यह साइट का उपयोग कर सकते हैं : pixabay.com ) 

5. कहानियों की न्यूनतम शब्द सीमा 500 शब्द है; अधिकतम शब्द - सीमा नहीं है, अधिकतम सीमा आपकी इच्छा और कहानी की मांग पर है। कहानी का शीर्षक लिखना न भूले।  

 

याद रहें : 

कहानियाँ पाठकों के सामने रहेंगी -- 5 अप्रेल 2019 तक |

प्रतियोगिता के रिजल्ट की घोषणा हम 30 अप्रेल 2019 को करेंगे |

पुरस्कार -

1. हम तीन कहानियों को पुरस्कृत करेंगे। 

जिसका निर्णय प्रतिलिपि टीम कहानियों की पाठक संख्या, कहानियों पर बिताया गया समय, एवं पाठकों द्वारा दी गई रेटिंग्स के आधार पर करेगी | रचना में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर प्रतिलिपि सम्पादकीय टीम  विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है |

प्रथम विजेता  - 20,000/- ( बीस हजार रुपये )

द्वितीय विजेता - 10.000/- ( दस हजार रुपये )

तृतीय विजेता - 5000/-  ( पाँच हजार रुपये )

2. प्रथम विजेता को हम अपने वार्षिक आयोजन 'प्रतिलिपि साहित्य समारोह' में सम्मानित करेंगे। 

3. टॉप 20 कहानियों की हम ई - बुक बनाएंगे।  

4 . टॉप 40 कहानियों को प्रतिलिपि की तरफ से डिजिटल प्रमाण पत्र दिया जाएगा। 

 

पुरस्कार राशि विजेताओं के अकाउंट में ऑनलाइन जमा करा दी जायेगी।

आपकी कहानियों को हमारी मार्केटिंग टीम ज़्यादा से ज़्यादा पाठकों तक पहुँचाने का प्रयत्न करेगी। हम आपकी कहानियाँ प्रतिलिपि के एप्लिकेशन पर, साईट पर, हमारे फ़ेसबुक पेज, एवं ट्विटर पेज के माध्यम से पाठकों के समक्ष रखेंगे।  

जब किताबों में छपे शब्दों को आवाज़ मिलती है तो वे जीवंत  हो उठते हैं  और हज़ारो दिलों को छू लेते है | बिलकुल वैसे ही जैसे एक कविता गीत बनकर झूम उठती है। अगर आपको भी लगता है कि आपकी आवाज में वो बात है ; शब्दो को जीवन देने की वह काबिलियत है, तो भेजिए हमे आपकी पसंदीदा रचना रेकॉर्ड कर के। और हाँ, रचनाकार को श्रेय देना ना भूले | 

आप इसमें अपनी रचनाएं भी रिकॉर्ड कर भेज सकते हैं |

आपकी भेजी हुई रचनाओं को प्रतिलिपि की  एडिटोरियल टीम के द्वारा जांचने के बाद प्रतिलिपि की वेबसाइट एवं यु ट्यूब चैनल पर प्रसारित किया जायेगा और  फेसबुक के जरिये सभी पाठको तक पहुंचाया जायेगा। एडिटोरियल की पसंद से चुने गए ४ ऑडिओ (२ - गद्य, २ - पद्य) को सन्मानित किया जायेगा। 

रचना चयन के लिए महत्त्वपूर्ण : 

१. आप प्रतिलिपि से किसी  भी लेखक की रचना चयन कर सकते है। उस रचना के कॉपीराइट की बात हम लेखक से करेंगे। 

२. अगर आप प्रतिलिपि से अलग किसी रचनाकार की रचना रिकॉर्ड करना चाहते है, तो उनसे आपको पठन की अनुमति खुद ही लेनी होगी।

पुरस्कार -- 

गद्य --

प्रथम पुरस्कार - 1000 /-

द्वितीय पुरस्कार - 500 /-

पद्य -

प्रथम पुरस्कार - 1000 /-

द्वितीय पुरस्कार - 500/-

 

महत्वपूर्ण -- 

 

१. अपनी  रिकॉर्डिंग हमे 7337760081 इस नंबर पर व्हाट्स एप से भेजे या hindi@pratilipi.com पर भेजे।  

 

२. अगर आपने रिकार्ड करने के लिए कहानी का चयन किया हो तो कृपया १०००-१५०० शब्दों तक की कहानी चुने। 

 

३. रिकॉर्ड करने के लिए आपको किसी स्टूडियो की आवश्यकता नहीं है, बस घर के एक शांत हिस्से में  बैठ कर अपने मोबाईल पर व्हाट्स एप से रिकॉर्ड कर सकते है। 

 

४. रिकॉर्डिंग के साथ अपना नाम और रचनाकार का नाम अवश्य लिखे। 

 

५. आप अधिकतम ५ रचनाए भेज सकते है। 

 

६. रचना भेजने की आखिरी तारीख 30 जून है। 

 

नोट - : आपके द्वारा रिकॉर्ड की गई रचनाओं के ओरिजिनल कॉपीराइट्स (क्रिएटिव राइट्स) मूल रचनाकार के ही रहेंगे।  

 

आप सबको बताते हुए अत्यंत हर्ष हो रहा है कि ५०० से ज़्यादा रचनाए हमें प्राप्त हुई है। बहुत ही बढ़िया कहानियाँ और कविताए रिकॉर्ड कर के आप सबने भेजी है। हमारी ओर से उन सभी रचनाओं की  एडिटिंग होगी  (बेक ग्राउंड आवाज़ और कुछ रिपीट हुआ हो तो उस बारे में) और बाद में हम उसको अपनी वेबसाइट तथा ऐप  पर अपलोड करेंगे। अपलोड हो जाने के बाद हम आप  से लिंक शेयर करेंगे ताकि आप  सब की रचनाए सुन सके। प्रतियोगिता के रिज़ल्ट (परिणाम) की तारीख लिंक शेयर करने के बाद आपको बताएंगे। धन्यवाद।

प्रतियोगिता का रिजल्ट घोषित हो गया है | कृपया  ' सम्पादकीय ' श्रेणी में देखें |

---------------------------------------------------------------------------------------------------------------

यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है ; इसके लिए कोई रचना अब न भेजें -- कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें | जिसके लिंक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें |

_______________________________

जैसे प्रकाश का  अस्तित्व अँधेरे के कारण है ; बिल्कुल वैसे  ही सृष्टि के अस्तित्व का कारण स्त्री है | चाहे लाख दुश्वारियां खडी की जायें सामन्तवादी  सोच के द्वारा  लेकिन उससे लड़ना और जीतना स्त्री बखूबी जानती है | 

स्त्री की  इसी  जीत  को हम समाज के सामने लाना चाहते हैं और इस कारण हमने एक साथ तीन विधाओं में यह प्रतियोगिता रखी है | आप स्त्री के संघर्षों की जीत को कहानी में लिखें या कविता में या लेख में या फिर अपने आसपास की किसी गहरी जिजीविषा युक्त स्त्री का परिचय समाज से करवाना चाहें -- वह सब आप इस प्रतियोगिता हेतु भेज सकते हैं | 

 

प्रतियोगिता सम्बन्धी नियम --

1 . कृपया अपने पत्र विषय में 'अगले जनम मोहे बिटिया ही कीजो ' लिखकर मेल करें | साथ ही , आपकी रचनाएं आपकी श्रेणी में ही लगें इसके लिए जरुरी होगा कि आप विषय "अगले जनम मोहे बिटिया ही कीजो" के साथ कहानी, कविता या लेख जरुर लिखें | मेल id है - hindi@pratilipi.com (अधिकतम पाँच रचनाएं भेज सकते हैं।)

2 . रचना  भेजने की अंतिम तिथि है --  15 मई , 2018 

3 . रचनायें पाठकों के सामने रहेंगी --  1 जून  2018 से 5 जुलाई 2018  तक 

4 . रिजल्ट की घोषणा पाठकों की पसंद के आधार पर की जायेगी जिसमें पाठक संख्या , रेटिंग और रचना  पर बिताया गया पाठकों का समय लिया जाएगा | 

5.रिजल्ट की घोषणा हम करेंगे -- 11 जुलाई को 

 

पुरस्कार -- 

इस प्रतियोगिता में  गद्य एवं पद्य श्रेणी में 2 विजेता होंगे यानी कहानी/लेख में 2, और कविता में 2.  

जिनकी पुरस्कार राशि इस प्रकार होगी -- 

कहानी/लेख

प्रथम पुरस्कार - 1000/-

द्वितीय पुरस्कार -  500/- 

कविता

प्रथम पुरस्कार - 1000/-

द्वितीय पुरस्कार -  500/- 

 

कुछ खास बातें - 

- आप  अपने पत्र के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हैं।  ( क्रिएटिव कॉमन्स वाले कवर ईमेज लेने के लिए आप यह साइट का उपयोग कर सकते हैं : http://pixabay.com )   

- इस प्रतियोगिता के लिए हम अधिकतम पाँच रचनाएं भेज सकते हैं।

- रचना में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर प्रतिलिपि सम्पादकीय टीम 'पाठकों की पसंद' के विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है |

- पुरस्कार राशि विजेताओं के अकाउंट में ऑनलाइन जमा करा दी जायेगी। 

All the best ! 

बच्चों के लिए कहानियाँ उपलब्ध करा रहा ऑनलाइन मंच 'प्रथम बुक्स' वार्षिक कथा प्रतियोगिता  - 'रिटेल, रीमिक्स और रिजॉइस' में 'प्रतिलिपि' के लेखकों का हार्दिक स्वागत करता है। हर वर्ष 'वर्ल्ड स्टोरीटेलिंग डे' के अवसर पर 'प्रथम बुक्स' लेखकों को ऑनलाइन कहानियों के मंच 'स्टोरीवीवर' पर कहानियाँ लिखने के लिए आमंत्रित करता रहा है। पहले की हुई प्रतियोगिताओं के विजेताओं की कहानियां पुस्तक रूप में सम्मानित प्रकाशन हॉउसिस द्वारा प्रकाशित की गई हैं।  इस वर्ष यह ख़ास मौक़ा सिर्फ प्रतिलिपि के लेखकों के लिए 'प्रथम बुक्स' की तरफ से प्रस्तुत है। इस प्रतियोगिता में लेखकों को दिए गए कई चित्रों के ऊपर बाल कहानियाँ लिखनी रहेगी। यह प्रतियोगिता में प्रतिलिपि सह-आयोजक के रूप से जुड़ा है इसलिए यह कहानियाँ 'प्रतिलिपि' की वेबसाइट पर नहीं लेकिन 'storyweaver.org' पर मौजूद रहेगी।  प्रतियोगिता में आपकी रचना सम्बंधित प्रश्न आप 'स्टोरीवीवर' की टीम से - storyweaver@prathambooks.org पर पूछ सकते है। 

 

क्या करना होगा -

प्रथम बुक्स की सम्पादकीय टीम ने आपके लिए कुछ चुनिंदा थीम्स निकाली है। 

इस वर्ष की थीम्स - 'नन्हें पाठकों को सबसे ज्यादा लुभाती आस पास की दुनिया' के बारे में है। 

जैसे की -

a) मेरा परिवार - जिसमे  माता-पिता, भाई-बहन, चाचा-चाची, नानी-दादी यानी सभी प्रकार के परिवारों के ऊपर कहानियाँ लिखी जा सकती है। 

b) मेरा घर - जहां मैं रहता / रहती हूँ और मेरे आसपास घट रही छोटी मोटी बातों के ऊपर कहानियाँ लिखी जा सकती है। 

c) मेरा खाना - स्वादिष्ट डिशीस हो या फीका खाना और उन पर बच्चों की प्रतिक्रियाओं के बारे में कहानियाँ लिखी जा सकती है।

d) आसपास के जानवरों के बारे में - जंगली और पालतू जानवर, छोटे मोटे जंतु एवं पक्षीओ से संबंधित कहानियाँ लिखी जा सकती है। 

e) शेप्स , नम्बर्स और कलर्स को रूबरू करती कहानियाँ भी लिखी जा सकती है। 

 

प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए आपको ऊपर दिए हुए थीम्स को ध्यान में रखते हुए नीचे दिए गए बटन 'एंटर कॉन्टेस्ट' पर जाना रहेगा।

एंटर कॉन्टेस्ट

 

पढ़ने के स्तर संबंधित -

बच्चों के शुरुआत से किए गए पठन विकास को ध्यान में रखते हुए है 'प्रथम बुक्स' ने हर कहानी को कुछ स्तरों में विभाजित किया है। जैसे की कुछ दस वर्षीय पाठक जो प्रथम स्तर की कहानियां पढ़ना पसंद करते है वही हमारे बीच छ वर्ष के कुछ बच्चें है जो तीसरे स्तर की कहानियाँ पढ़ना पसन्द करते हैं। पठन स्तर संबंधित अधिक जानकारी  आपको  'स्टोरीवीवर' की वेबसाइट पर मिलेगी। आप आपकी कहानियों के कथानक को ध्यान में रखते हुए इनमे से कोई भी एक 'स्तर' में आपकी कहानियाँ नियुक्त कर सकते हैं। 

 

प्रतियोगिता में हिस्सा लेने संबंधित दिशा-निर्देश -

प्रतियोगिता मार्च २० से अप्रैल ३० तक हिस्सा लेने हेतु खुली रहेगी। 

 

कॉपीराइट संबंधित -

कहानियाँ आपकी लिखी हुई अर्थात मौलिक होनी चाहिए और प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए १७ वर्ष से अधिक की आयु होना आवश्यक है। 'प्रथम बुक्स' एक नॉन-प्रॉफिट ऑर्गेनायज़ेशन है जो बच्चों के लिए कहानियाँ मुफ्त में उपलब्ध करवाता है और अधिक बच्चों तक पहुँचने की लगातार कोशिश करता है। इसलिए आपके द्वारा प्रतियोगिता में दी गई कहानियों को CC-BY लाइसेंस मिलेगा। ( यह लाइसेंस के द्वारा कहानी को व्यावसायिक/बिन-व्यावसायिक तौर पर कोई भी व्यक्ति वितरण, रीमिक्स, फिर से लिखना, इसके ऊपर और लिखने के लिए सक्षम है, इसी के साथ आपको मूल निर्माता का श्रेय दिया जाएगा। )

 

प्रतियोगिता में हिस्सा कैसे ले -

इसके लिए आपका 'स्टोरीवीवर' में अकाउंट होना आवश्यक है। यह होने के पश्चात आप आपकी कहानी 'Retell, Remix and Rejoice 2018' के लिए दर्ज कराए। दिए गए वीडियो से आपको 'स्टोरीवीवर' पर चित्र कथाए कैसे लिखी जा सकती है के बारे में जानकारी मिलेगी। 

लिंक : वीडियो ट्यूटोरियल 

आप आपकी कहानी 'Retell, Remix and Rejoice 2018' के लिए दर्ज कराने के लिए यहाँ क्लिक करें।  

एंटर कॉन्टेस्ट

 

जाने से पहले इस प्रतियोगिता के पुरस्कार संबंधित -

संपादकों के द्वारा चुनी गई तीन कहानियों को 'प्रथम बुक्स' की और से एक-एक बुक - हेम्पर दिया जायेगा। इसीके साथ 'प्रथम बुक्स' के सीनियर संपादकों से आपका रूबरू या ऑनलाइन 'प्रतिक्रिया सत्र' आयोजित होगा। फाइनल विजेता कहानी प्रोफेशनल कार्टूनिस्ट के द्वारा फिर से निर्माण का मौका पाएगी। 

प्रतियोगिता का रिजल्ट घोषित हो गया है | कृपया  ' सम्पादकीय ' श्रेणी में देखें |

---------------------------------------------------------------------------------------------------------------

इस प्रतियोगिता हेतु रचनाएं भेजने की तिथि समाप्त हो गई है | सभी रचनाएं हमने पाठकों के लिए इस पेज में नीचे रखी गयी है | इन रचनाओं को पढने तथा उन पर अपने विचार व्यक्त करने हेतु आप सभी पाठकों का हार्दिक स्वागत है | आपके दिए गए विचार 20 मई तक मान्य होंगे | साथ ही हमने इस प्रतियोगिता हेतु जो नियम प्रकाशित किये थे वे सभी नीचे लिखे हुए हैं |

---------------------------------------------------------------------------------------------------------------

बहुत दिनों से नहीं लिखी कोई चिट्ठी किसी दोस्त को |

बहुत दिनों से नहीं आई कोई चिट्ठी 

किसी भी दोस्त की |

सोच रहा हूँ 

क्या दोस्त भी सोचते होंगे मेरी तरह |

कि भेजे कोई उन्हें भी चिट्ठी 

कि मिले चिट्ठी तो लिखें एक चिट्ठी 

तो क्या मैं इंतज़ार करूँ एक चिट्ठी का 

या खुद लिख भेजूं एक चिट्ठी 

अपने दोस्त के नाम |

जी , बिलकुल भी इंतज़ार न करें और जरुर लिख भेजें चिट्ठी अपने किसी दोस्त के नाम या खुद को ही या फिर उन्हें जिनका तसव्वुर हो आपके ख्यालों में | कुछ इस तरह कि  - 

" वो एक ख़त जो उसने कभी लिखा ही नहीं ,

मैं रोज बैठ कर उसका जवाब लिखता हूँ ||"

रिश्ते चाहे जो भी हों वे सभी भावनाओं की गर्माहट का पोषण मांगते हैं और इसका सबसे  खुबसूरत माध्यम पत्र है | आज के भागते नेट युग में तो इस की महत्ता और भी बढ़ जाती है अपनों तक भावनाएं प्रेषित करने के लिए |

आप इस प्रतियोगिता हेतु अपने किसी ख़ास रिश्ते को या काल्पनिक परिस्थितियों में खुद को रखकर या फिर अपने - आपको भी पत्र लिखकर हमें भेज सकते हैं | आप अपने किसी हीरो / एलियन / रोबोट को या फिर स्वयं को भूत /भविष्य में रखकर किसी स्थिति की कल्पना कर या किसी वास्तु को भी ; जिसे आप बहुत प्यार करते हैं -- पत्र लिख सकते हैं | लेकिन केवल हामारे बताये विषयों पर ही मत जाईयेगा ; जो भी यूनिक आइडिया  आपके पास आयेगा आप उसे ही पत्र लिख भेजिएगा |

 

प्रतियोगिता सम्बन्धी नियम -- 

1 . कृपया  अपने पत्र   विषय में ' लिखे जो खत तुझे ' लिखकर मेल करें | मेल id है - hindi@pratilipi.com 

2 . पत्र  भेजने की अंतिम तिथि है -- 25  मार्च, 2018 

3 . पत्र  पाठकों के सामने रहेंगी --  13 अप्रेल, 2018

4 . रिजल्ट की घोषणा पाठकों की पसंद के आधार पर की जायेगी जिसमें पाठक संख्या , रेटिंग और रचना  पर बिताया गया पाठकों का समय लिया जाएगा |

महत्वपूर्ण -- 

रिजल्ट की तिथि --  28 मई , 2018

पुरस्कार -- 

इस प्रतियोगिता में  7 विजेता होंगे  |  जिनकी पुरस्कार राशि होगी -- 

प्रथम पुरस्कार - 1500/-

द्वितीय पुरस्कार - 1000 /-

5 सांत्वना पुरस्कार -- 500/- 

 

कुछ खास बातें - 

- आप  अपने पत्र के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हैं।  ( क्रिएटिव कॉमन्स वाले कवर ईमेज लेने के लिए आप यह साइट का उपयोग कर सकते हैं : http://pixabay.com )   

- इस प्रतियोगिता के लिए हम अधिकतम  पाँच पत्र  स्वीकार करेंगे।

- रचना  में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर pratilipi सम्पादकीय टीम ' पाठकों की पसंद ' के विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है |

- पुरस्कार राशि विजेताओं के अकाउंट में ऑनलाइन जमा करा दी जायेगी। 

All the best ! 

 

प्रतियोगिता का रिजल्ट घोषित हो गया है | कृपया साईट पर ' सम्पादकीय ' श्रेणी में देखें |

__________________________________________________________________________________________

इस प्रतियोगिता हेतु रचनाएं भेजने की तिथि समाप्त हो गई है | सभी रचनाएं हमने पाठकों के लिए इस पेज में नीचे रखी गयी है | इन रचनाओं को पढने तथा उन पर अपने विचार व्यक्त करने हेतु आप सभी पाठकों का हार्दिक स्वागत है | आपके दिए गए विचार 21 अप्रेल तक मान्य होंगे | साथ ही हमने इस प्रतियोगिता हेतु जो नियम प्रकाशित किये थे वे सभी नीचे लिखे हुए हैं |

_________________________________________

प्रेम , प्यार , इश्क -- ढाई अक्षर के इस शब्द में पूरी कायनात समाई हुई है | वैसे तो प्रेम के लिए कोई समय निर्धारित नहीं किया जा सकता | लेकिन , फरवरी में वसंत ऋतु  के आगमन से पूरी प्रकृति खिल जाती है और हमारे यहाँ वसंत को  कामदेव  का सखा माना जाता है | जिसके प्रभाव से मनुष्य तो क्या पशु - पक्षी और पेड़ - पौधे भी अछूते नहीं रह पाते | साथ ही इसी फरवरी माह में वेलेंटाइन डे जैसा युवा - मन का त्यौहार भी मनाया जाता है | फिर क्यों न लेखनी से भी प्रेम के बेहतरीन शब्द निकलें |  हमने ' प्रेम कथा ' प्रतियोगिता इस महीने  TrulyMadly के साथ मिलकर रखी है |  तो देर किस बात की ! उठाईये कलम और शब्दों में ढाल दीजिये कोई प्रेम - कथा | अपनी या किसी दोस्त की या फिर आपके आसपास के किसी की | किसी ने क्या ख़ूब लिखा भी है -- 

हर शख्स को दिवाना बना देता है इश्क
जन्नत की सैर करा देता है इश्क
दिल के मरीज हो तो कर लो महोब्बत
हर दिल को धड़कना सिखा देता है इश्क !

 

प्रतियोगिता सम्बन्धी नियम -- 

१. कृपया केवल प्रेम कहानियां ही  विषय में ' प्रेम - कथा प्रतियोगिता के लिए ' लिखकर मेल करें | मेल id है - hindi@pratilipi.com 

२. कहानियां भेजने की अंतिम तिथि है -- 25 फ़रवरी |

3 . कहानियाँ पाठकों के सामने रहेंगी -- 21 अप्रेल  तक 

4 . रिजल्ट की घोषणा पाठकों की पसंद के आधार पर की जायेगी जिसमें पाठक संख्या , रेटिंग और कहानी पर बिताया गया पाठकों का समय लिया जाएगा |

5 . रिजल्ट की  घोषणा होगी -- 27 अप्रेल को |

 

पुरस्कार -- 

इस प्रतियोगिता में 3 विजेता होंगे | जिनकी पुरस्कार राशि होगी -- 

प्रथम पुरस्कार - 2000/-

द्वितीय पुरस्कार - 1500 /-

तृतीय पुरस्कार - 1000 /- 

 

कुछ खास बातें - 

- आप अपनी कहानियों के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हैं।  ( क्रिएटिव कॉमन्स वाले कवर ईमेज लेने के लिए आप यह साइट का उपयोग कर सकते हैं : http://pixabay.com )   

- इस प्रतियोगिता के लिए हम अधिकतम पांच कहानियाँ स्वीकार करेंगे।

- रचना  में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर pratilipi सम्पादकीय टीम ' पाठकों की पसंद ' के विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है |

- पुरस्कार राशि विजेताओं के अकाउंट में ऑनलाइन जमा करा दी जायेगी। 

 

 

प्रतियोगिता का रिजल्ट घोषित हो गया है | कृपया साईट पर ' सम्पादकीय ' श्रेणी में देखें |

__________________________________________________________________________________________

यह प्रतियोगिता अब बंद हो चुकी है ; इसके लिए कोई रचना अब न भेजें -- कृपया अब इस प्रतियोगिता में आई हुई रचनाएं पढ़ें | जिसके लिनक्स नीचे लगे हुए हैं और अपनी बहुमूल्य टिप्पणी एवं रेटिंग्स रचनाकार को दें |

किसी जगह की मिटटी भीगे, तृप्ति मुझे मिल जाएगी

तर्पण अर्पण करना मुझको, पढ़ पढ़ कर के मधुशाला।

 

हरिवंश राय बच्चन की सहज और संवेदनशील कविता 'मधुशाला' के यह बोल हमें भी हमारी मन की बात कहने पर मजबूर कर देते हैं। तो आइए एक बार फिर से रंग-बिरंगी भावों को बयां करती इन कविताओं के महोत्सव का हम भी हिस्सा बने। हर वर्ष की तरह हमने इस वर्ष भी  'प्रतिलिपि कविता सम्मान २०१८' का आयोजन किया है | इस हेतु आप अपनी कविताओं की प्रविष्टियाँ २३ जनवरी तक भेज सकते हैं |

 

नियम - 

1. कृपया महत्तम 5 कवितायें ही भेजें 

2. 'प्रतिलिपि कविता सम्मान २०१८' हेतु भेजी गई कवितायें प्रतिलिपि पर पहले से प्रकाशित नहीं होनी चाहिए |

3. अंतिम तिथि २३ जनवरी के बाद भेजी गई प्रविष्टि हम इस प्रतियोगिता में शामिल नहीं करेंगे | 

4. आप अपनी कवितायें  के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  ( क्रिएटिव कॉमन्स वाले कवर ईमेज लेने के लिए आप यह साइट का उपयोग कर सकते हैं : pixabay.com ) 

5. कविताओं में शब्द-संख्या की कोई मर्यादा नहीं है, आप अपनी कविताओं का प्रकार/श्रेणी भी भेज सकते हैं।  कविता का शीर्षक लिखना न भूले।  आपकी सब रचनायें एक ही मेईल में भेंजे।   

  

 

महत्वपूर्ण - 

1. कवितायें  hindi@pratilipi.com पर मेल करें।  

2. कृपया मेल के विषय में जरुर लिखें - 'प्रतिलिपि कविता सम्मान हेतु'

3. आपकी कवितायें 7 फ़रवरी से 30 अप्रेल तक  प्रतिलिपि की एप्लिकेशन और वेबसाइट के माध्यम द्वारा लाखों पाठकों के सामने है और परिणाम की घोषणा हम 7 मई को करेंगे |

 

 

पुरस्कार -

1.हम दो कविताओं को पुरस्कृत करेंगे। 

अ ) पाठकों की पसंद 

ब ) समीक्षक की पसंद 

 

श्रेणी 'अ' में कविता का निर्णय पाठक संख्या, कविताओं पर बिताया समय एवं पाठकों द्वारा दी गई रेटिंग्स के आधार पर होगा। 

प्रथम विजेता 1000 /-

द्वितीय विजेता 500 /-

 

श्रेणी 'ब' में कविता का निर्णय हमारे चुनें  हुए जजिस की पेनल करेंगी।  पुरस्कार - 

प्रथम विजेता 1000 /-

द्वितीय विजेता 500 /-


2. पाठकों की पसंद की टॉप १५ कविताओं की ई-बुक हम बनायेंगे और टॉप १५ को सर्टिफिकेट की सॉफ्ट कॉपी मेल द्वारा भी भेजेंगे।

3. विजेताओं को हम 'प्रतिलिपि साहित्य समारोह ' में सम्मानित करेंगे।

नोट - रचना  में व्याकरण सम्बन्धी अशुद्धियाँ या रचना के निम्न स्तर का होने पर pratilipi सम्पादकीय टीम ' पाठकों की पसंद ' के विजेता में क्रमवार परिवर्तन कर सकती है |

पुरस्कार राशि विजेताओं के अकाउंट में ऑनलाइन जमा करा दी जायेगी।

 

शिकायत एक ऐसी भावना है जो हर किसी के पास होती ही है -- चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक | कभी व्यवस्था से , कभी अपनों से , कभी गैरों से तो कभी अपने आप से ही --  हमें शिकायत तो होती ही है | बस उसे कुछ शब्दों में ढालना है | 

आपकी शिकायतें नेट के जरिये विश्व भर के सामने होंगी और हो सकता है आपकी शिकायत से किसी समस्या  के समाधान को कोई दिशा भी मिल जाए  | अत: इसे गंभीरता से ले अपनी शिकायतें जरुर दर्ज कराएं |

आप अपनी शिकायतें हमें 300 या इससे अधिक शब्दों में लिख भेजें | हम आपकी शिकायत को परखेंगे शिकायत करने के आपके अंदाज से और जो शिकायत हमारे पाठकों  को दिलचस्प लगेगी उन्हें हम पुरस्कृत करेंगे |

 

नियम - 

1. कृपया प्रतियोगिता हेतु अधिकतम 5 शिकायतें  ही भेजें |

2. शिकायतें  300 या इससे अधिक शब्दों में लिख भेजें |

 

महत्वपूर्ण - 

1. अपनी शिकायतें   आप हमें केवल hindi@pratilipi.com पर ही मेल करें |

2. आप अपनी रचनाओं  के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  (फ्री कॉपीराइट वाले कवर ईमेज लेने के किये आप यह साइट का उपयोग कर सकते हे : pixabay.com ) 

3. कृपया मेल के विषय में जरुर लिखें - "मुझे शिकायत है" |

4. शिकायतें  1 दिसम्बर  से  22 दिसम्बर  तक भेजी जा सकती हैं |

5. १ जनवरी  से ८ फरवरी तक आपकी शिकायतें नेट के जरिये विश्व भर के सामने होंगी और हो सकता है आपकी शिकायत से किसी समस्या  के समाधान को कोई दिशा भी मिल जाए  | स्पर्धा का परिणाम हम १६ फरवरी को घोषित करेंगे।  

 

पुरस्कार - 

प्रथम पुरस्कार  -- 1000/-

द्वितीय पुरस्कार -- 500 /-

पाँच सांत्वना पुरस्कार -- 200/- 

 

तो आईये विषय पर लिखना शुरू करें | आल द बेस्ट |

जीवन हरेक पल एक कदम आगे बढ़ जाता है और साथ चल रही यादों की गठरी में कुछ ख़ास छोड़ जाता है | प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में बताने के लिए कुछ न कुछ यादें होती ही हैं -- चाहे वे खट्टी हों या मीठी | बस इसलिए हमने यह अनोखी प्रतियोगिता रखी कि हम  सभी  एक साथ इसका हिस्सा बन सकें |

तो आईये खोलें अपना यादों का पिटारा -- कुछ कहें ; कुछ सुनें और अपने अनुभवों को समृद्ध करें ---

नियम - 

1. कृपया प्रतियोगिता हेतु अधिकतम 5 लेख / कहानियाँ ही भेजें |

2. रचनाएं  500 शब्दों से कम की ना हों |

3. प्रतियोगिता हेतु भेजी गई रचनाएं  प्रतिलिपि पर प्रकाशित नहीं होनी चाहिए | 

महत्वपूर्ण - 

1. रचनाएं  आप हमें केवल hindi@pratilipi.com पर ही मेल करें |

2. आप अपनी रचनाओं  के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  (फ्री कॉपीराइट वाले कवर ईमेज लेने के किये आप यह साइट का उपयोग कर सकते हे : pixabay.com ) 

3. कृपया मेल के विषय में जरुर लिखें - " जाने कहाँ गए वे दिन हेतु" |

4. रचनाएं  3 नवम्बर  से 26 नवम्बर  तक भेजी जा सकती हैं |

51 दिसम्बर से रचनाएं प्रतिलिपि पर पाठकों के सामने रहेंगी | 

परिणाम  -

1.पाठकों की पसंद  - इस श्रेणी का निर्णय पाठक संख्या और रचना पर बिताये गये पाठकों के समय, रेटिंग्स के आधार पर होगा | ( शब्द संख्या कम होने पर रचना  विजेता की लिस्ट में नहीं आ पाएगी | साथ ही रचना में अगर व्याकरण की त्रुटियाँ अधिक होंगी या रचना  निम्न स्तर की होगी तो प्रतिलिपि सम्पादकीय विभाग रिजल्ट में फेर - बदल भी कर सकता है | )

2. समीक्षक की पसंद -- इसका निर्णय प्रतिलिपि - जज करेंगे |

पुरस्कार - 

पाठकों की पसंद:

प्रथम पुरस्कार  -  1000/-

द्वितीय पुरस्कार - 500 /-

समीक्षक की पसंद:

प्रथम पुरस्कार  - 1000 /-

द्वितीय पुरस्कार - 500/-

 

रिजल्ट - रचनाएं 1 दिसम्बर से 31 जनवरी तक लोगों के सामने रहेंगी और परिणाम की घोषणा होगी - 7 फ़रवरी को 

( नॉट : हमारे निर्णायक को ईस स्पर्धा की रचनाएँ पढ़ने के लिए ज्यादा समय जरुरी होने के कारण हमने स्पर्धा का परिणाम 17 जनवरी के बदले 7 फ़रवरी, २०१८ किया है।  )

 

तारे जमीं पर  |यह केवल एक स्पर्द्धा नहीं एक मिशन भी है |

बच्चे केवल देश का भविष्य ही नहीं हमारे जीने का मकसद भी होते हैं | लेकिन आज के बदलते परिवेश ने जब विभिन्न तरह से इन मासूमों पर आघात करना शुरू किया है तो यह हमारा पहला दायित्व बनता है कि हम इनकी विभिन्न समस्याओं पर अधिकाधिक लिखें और समाज को जागरूक करें |

बच्चों की समस्याओं सम्बन्धी कुछ पॉइंट्स हम यहाँ दे रहे हैं और इसमें आप भी अपनी तरफ से ऐड कर ( जो हमसे छूट गए हों ) उस पर लिख सकते हैं - 

-- स्कूल में बच्चों  के साथ दुर्व्यवहार 

-- पढाई का प्रेशर 

-- माता - पिता की आकांक्षाओं का बोझ 

-- आत्महत्या की बढती प्रवृत्ति 

-- बाल - यौन उत्पीडन 

-- बाल मजदूर 

-- माता - पिता के आपसी तनावपूर्ण रिश्ते का बाल - मन पर प्रभाव 

-- टी.वी.एवं नेट पर एडल्ट प्रोग्रामों एवं पोर्न साइट्स / फोटोज की सुलभता 

-- कुछ आत्मघाती गेम्स का नेट पर होना जैसे - ब्लू व्हेल गेम आदि 

-- फोन के द्वारा दी जाने वाली धमकियाँ

-- स्कूल बस / वैन ड्राइवर की अक्षमता के कारण आये दिन होने वाले एक्सीडेंट 

-- सरकारी कुव्यवस्था से प्रभावित होता बचपन जैसे मिड डे मील खाकर बीमार होना या सरकारी स्कूलों की कुव्यवस्था 

-- प्राईवेट स्कूलों की मोटी फीस के कारण कम आय वाले बच्चों का अच्छी शिक्षा से वंचित रहना 

-- दोषपूर्ण शिक्षा नीति के कारण किसी समस्या से पीड़ित बच्चे का अवमूल्यन या प्रताड़ना 

-- मानसिक या शारीरिक रूप से विकलांग बच्चों की समस्याएं 

उफ्फ्फ्फ़ !! एक साथ इन्हें लिखते हुए भी आत्मा पर बोझ महसूस हो रहा है | ऐसे में हम सबका यह पहला कर्तव्य बनता है कि हमारी लेखनी से कम से कम एक कहानी तो जरुर निकले हमारे अपने बच्चे के लिए -- उसकी किसी भी छोटी / बड़ी समस्या को लक्ष्य कर | 

तो आईये हम अपने बच्चों के लिए लिखें और जरुर लिखें |

आप बच्चों से सम्बन्धित एक से पांच कहानियां हमें hindi@pratilipi.com पर विषय में " तारे जमीं पर " लिख कर 26 सितम्बर से 1 नवम्बर,2017 तक मेल कर सकते हैं | 

 

नियम - 

1. कृपया प्रतियोगिता हेतु अधिकतम 5  कहानियाँ ही भेजें |

2. कहानियाँ  700 शब्दों से कम की ना हों |

3. "तारे जमीं पर " हेतु भेजी गई कहानियाँ  प्रतिलिपि पर प्रकाशित नहीं होनी चाहिए | 

 

महत्वपूर्ण - 

1. कहानियाँ आप हमें केवल hindi@pratilipi.com पर ही मेल करें |

2. आप अपनी कहानियों  के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  (फ्री कॉपीराइट वाले कवर ईमेज लेने के किये आप यह साइट का उपयोग कर सकते हे : pixabay.com ) 

3.कृपया मेल के विषय में जरुर लिखें - " तारे जमीं पर  हेतु" |

4.कहानियाँ 14 नवम्बर   से 25 दिसम्बर   तक प्रतिलिपि के एप्लिकेशन और वेबसाइट पर लाखों पाठकों के सामने रहेंगी |

5.रिजल्ट की घोषणा 30 दिसम्बर  को प्रतिलिपि वेबसाइट पर होगी |

 

 परिणाम  -

1.पाठकों की पसंद  - इस श्रेणी का निर्णय पाठक संख्या और रचना पर बिताये गये पाठकों के समय, रेटिंग्स के आधार पर होगा | ( शब्द संख्या कम होने पर कहानी विजेता की लिस्ट में नहीं आ पाएगी |)

2.समीक्षक की पसंद - इस श्रेणी का निर्णय हमारे जज करेंगे |

 

पुरस्कार -

पाठकों की पसंद:

प्रथम पुरस्कार  -  1500/-

समीक्षक की पसंद:

प्रथम पुरस्कार  - 1500 /-

 

दोनों ही श्रेणी की पुरस्कृत कहानियों को हम विशिष्ट दर्जा देते हुए " प्रतिलिपि साहित्य समारोह " में भी समानित करेंगे  तथा दोनों ही श्रेणी की टॉप 20 कहानियों की ई बुक भी बनायेंगे |

हम चाहते हैं कि इस आयोजन में आप सबकी भागीदारी हो इसलिए हमने कहानियां लिखने के लिए लंबा समय भी रखा है | तो आईये विषय पर लिखना शुरू करें |

 

 

त्योहारों की आवाजाही हो और करवट लेता मौसम हो तो मन का रेशा - रेशा रेशमी ख़्वाब बुनने लगता है । ऐसे मे शब्दों की सरगम पर छेड़ी कॊई ग़ज़ल या शायरी हृदय को ख़रामा ख़रामा दिलकश ख़्वाबों में ले जाती है । ऐसा नहीँ कि ग़ज़लें औऱ शायरी वक़्त की आवाज़ नहीँ होती । पर ,इनकी बुनावट की कोमलता या कहें कि उर्दू के शब्दों का जादू इनमें तल्ख़ भावों की जगह सुखद / दुखद गहरे अहसास भर जाते हैं । इन्ही अहसासों को जीने के लिये हमने बज़्म ए अदब - नज़्म ग़ज़ल औऱ शायरी ऑनलाइन प्रतिस्पर्धा का आयोजन किया है ।

 

खास ध्यान रहें : 

१) नज़्म ग़ज़ल औऱ शायरी आप जो भी भेजे वह रचना आपकी खुद की लिखी हुयी होनी चाहिए। अन्य किसी भी रचनाकारकी रचना अस्वीकार्य हे।  आपकी रचना के साथ आपका सम्पूर्ण नाम भी जरूर भेजे।  

२) आप ग़ज़ल और नज़्म अधिकतम 5 भेज सकते हे।  हलाकि शायरी आप 5 से अधिक भेजें |

३) आप आपकी रचनाये हमें केवल hindi@pratilipi.com पर ही मेल करें | कृपया मेल के विषय में जरुर लिखें - " बज़्म ए अदब हेतु" |

 

महत्त्वपूर्ण तारीख:

१ ) रचनायें भेजने की तारीख - 7 सितम्बर से  20 सितम्बर ।

२ ) रचनायें 26 सितम्बर को प्रतिलिपि के प्लेटफॉर्म पे पाठकों के सामने लॉन्च होगी।  

३ ) इस स्पर्धा के परिणाम की तारीख हम रचनाओं को पब्लिश करने के बाद घोषणा करेंगे ( प्रतिलिपि का परिवार जैसे-जैसे बड़ा हो रहा हे वैसे स्पर्धाओंकी रचनाओं की संख्या बढ़ती रहती हे।  पाठकों के सामने सब रचनाएँ पहुंचे उस हेतु हम परिणाम की तारीख स्पर्धा की रचनाओंकी संख्या को देखके घोषित करेंगे।  )

४ ) आप अपनी रचनाओं  के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  (फ्री कॉपीराइट वाले कवर ईमेज लेने के किये आप यह साइट का उपयोग कर सकते हे : pixabay.com ) 

 

पुरस्कार - 

पाठकों के द्वारा सबसे अधिक पढ़ी गई, एवं रेटिंग की गई रचना पुरस्कृत होगी ।

प्रथम पुरस्कार - 1500/-

द्वितीय पुरस्कार - 1000/-

तृतीय पुरस्कार - 500/- 

रिजल्ट प्रकाशित होगा - 27 अक्तूबर को 

प्रतिलिपि कथा सम्मान - 2017

"कथा महोत्सव"

"प्रतिलिपि लघुकथा सम्मान" और "प्रतिलिपि कविता सन्मान" की तरह हमने इस वर्ष "प्रतिलिपि कथा सम्मान" करने का निश्चय किया है  इस प्रतियोगिता में शामिल होने हेतु आप अपनी प्रविष्टियाँ हमें 4 अगस्त  से 20 अगस्त तक भेज सकते हैं | 

 

नियम - 

1. कृपया प्रतियोगिता हेतु अधिकतम 5 कहानियां  ही भेजें |

2. कहानियाँ  700 शब्दों से कम की ना हों |

3. "प्रतिलिपि कथा सम्मान" हेतु भेजी गई कहानियाँ  प्रतिलिपि पर प्रकाशित नहीं होनी चाहिए | 

 

महत्वपूर्ण - 

1. कहानियाँ आप हमें केवल hindi@pratilipi.com पर ही मेल करें |

2. आप अपनी कहानियों  के साथ उसका कवर-ईमेज भी भेज सकते हे।  (फ्री कॉपीराइट वाले कवर ईमेज लेने के किये आप यह साइट का उपयोग कर सकते हे : pixabay.com ) 

3.कृपया मेल के विषय में जरुर लिखें - " प्रतिलिपि कथा सम्मान हेतु" |

4.कहानियाँ 1 सितम्बर  से 5 अक्टूबर  तक प्रतिलिपि के एप्लिकेशन और वेबसाइट पर लाखों पाठकों के सामने रहेंगी |

5.रिजल्ट की घोषणा 10 अक्टूबर को प्रतिलिपि वेबसाइट पर होगी |

 

 परिणाम  -

1.पाठकों की पसंद  - इस श्रेणी का निर्णय पाठक संख्या और रचना पर बिताये गये पाठकों के समय, रेटिंग्स के आधार पर होगा | ( शब्द संख्या कम होने पर कहानी विजेता की लिस्ट में नहीं आ पाएगी |)

2.समीक्षक की पसंद - इस श्रेणी का निर्णय हमारे जज करेंगे |

 

पुरस्कार -

पाठकों की पसंद:

प्रथम पुरस्कार  -  1500/-
समीक्षक की पसंद:

प्रथम पुरस्कार  - 1500 /-
 

पुरस्कृत कहानियां " प्रतिलिपि साहित्य सम्मान " में सम्मानित की जायेंगी  | साथ ही टॉप 20 कहानियों  की हम ई - बुक बनायेंगे और टॉप 20 विजेताओं को सर्टिफिकेट की सॉफ्ट कॉपी मेल द्वारा भेजेंगे  |

नोट - कहानियों की संख्या अधिक होने के कारण हमारे जजेज को कहानियां पढने के लिए थोड़ा और समय चाहिए इसलिए रिजल्ट की घोषणा हम 16 अक्तूबर तक करेंगे |

आल द बेस्ट |

hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.