गलतफहमी (ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे)

डॉ. मनीष गुप्ता

गलतफहमी (ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे)
(16)
पाठक संख्या − 3008
पढ़िए

सारांश

ये कहानी है दो दोस्तों की जो किसी गलतफहमी की वजह से एक दूसरे से बात करना बंद कर देते हैं और बाद में कैसे उनके बीच गलतफहमी दूर होती है यह भी बताया गया है / सबसे बड़ी बात एक लड़का और एक लड़की एक अच्छे दोस्त भी हो सकते हैं ये भी बताने की कोशिश की गई है /
Anju Chouhan
nice
रिप्लाय
Gufran Mohd
Good one 😘
रिप्लाय
Pihu Sharma
👌👌👌👌right
रिप्लाय
अजित शुक्ल
बहुत अच्छी
रिप्लाय
Manisha Gupta
Nice story
रिप्लाय
Tanush Kumar
Nice story
रिप्लाय
मनीला कुमारी
बहुत भावपूर्ण कहानी
रिप्लाय
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.