सारांश

किसी के पास बहुत है और कोई पूरी तरह है नंगा , जब मात्र पैसे किसी की मौत क कारण बने तो हम सोचने की जरूरत है की सभ्यता हमें कहा ले आयी है
brijesh
अच्छा संदेश है कि गरीब की मजबूरी हर रोज एक नयी मुसीबत से मुकाबला करती है ! पेट की भूख, बीमारी का इलाज, टूटी छत, कुपोषण शरीर, कर्ज का बोझ, बेरोजगारी, बेगारी का काम और अमीरों के ताने यह सब अनुभव हर गरीब हर रोज झेलता है।
Priyank
yahi haqiqat hai apne samaj ki
Ram
Ram
jarurat pr koi kam nhi aata abhi uasse shadi ki party leni hoti to sab aage aa jate
hindi@pratilipi.com
+91 8604623871
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.