दीपक कुमार सोनी
प्रकाशित साहित्य
40
पाठक संख्या
36,442
पसंद संख्या
4,599

परिचय  

प्रतिलिपि के साथ:    

सारांश:

एक लेखक के ज़िन्दगी में शब्दों के सिवा और कोई कारगर माध्यम नहीं होता अपने मन के असीम विचारों को संसार में लाने का अर्थात वह विचारों को शब्दों में पंक्तिबद्ध करके नए कहानियों को सृजित करता है साथ हीं वर्तमान में घटित घटनाओं को अप्रत्यक्ष तरीके से समाज में प्रस्तुत करता हैi एक लेखक होना एक गौरव है तो इसमें ज़िम्मेदारियाँ भी हैं i मुझे ख़ुशी है कि माँ सरस्वती का आशीर्वाद मुझपर हैi अपने बारे में स्वयं बताना गलत होगा, फिर भी मेरे बारे में इतना हीं कहूंगा कि मेरी कला में बाल्यकाल से रूचि, हिंदी से गहरा लगाव.... मुंशी प्रेमचंद की कहानियों में सर्वाधिक रूचि हैi और जीवन से जुड़ी कहानियों को लिखना मुझे अच्छा लगता हैi


Uday Sawant

2 फ़ॉलोअर्स

Patel Heena

1 फ़ॉलोअर्स

brijesh soni

1 फ़ॉलोअर्स

A S Rani Singh

2 फ़ॉलोअर्स

anubhav awasthi

1 फ़ॉलोअर्स
hindi@pratilipi.com
080 41710149
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.