सारांश

राजू ने उसके बारे मे बात शुरू की थी वो बताने लगा की छलावा नाक मे बात करता है, उसके पैर पीछे की तरफ मुड़े हुए होते हैं, उसकी परछाई नही दिखती वो बहुत तेजी से पीछे भागता है और किसी का भी रूप बदल लेता है, और अगर...........
Rajesh
हा..हा..बहुत खूब
Vibha
bahut hi achha h bilkul sach jesa
रिप्लाय
Hemlata
bahut badiya
रिप्लाय
Happy
हा हा हा .... बचपन की याद दिला दी अरुण जी. .बहुत बहुत उम्दा कहानी ..
रिप्लाय
Ishor
सही है । सबसे बड़ा भूत तो डर है ।
रिप्लाय
Kuldeep
बहुत ही बढ़िया.... बचपन की यादें वाह..!
रिप्लाय
Nikita
nice
रिप्लाय
upasana
bchpn ki yaade taaza ho gai
रिप्लाय
Sarla
very nice story
रिप्लाय
सारी टिप्पणियाँ देखें
hindi@pratilipi.com
+91 8604623871
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.