उपन्यास लिखना सबसे आसान है. कहानी लिखना थोडा कठिन है. लघु कथा लिखना बहुत कठिन. अगर आप एक लघु कथा लिख लेंगे तो आगे विस्तार करना वैसे हीं है जैसे टिल को ताड करना. उदहारण नीचे है ;;;;;;
बबलू ने डब्लू से कहा, यार तुम्हारी माँ बहुत खुबसूरत हैं.' डब्लू पूछा,'कैसे. बबलू ने कहा, 'जब तुम्हारी माँ छत पे कपडे सुखाने जाती है तो सब के पिता अपनी खिड़की से तेरी माँ को देखते रहते हैं.' ----यह हुई लघु कथा.
अब इसी बात को चम्पू की माँ ने सुन ली. फिर जो हुआ अन्दर वो कहानी. और अन्दर की बात सब पडोशी ने सुना , फिर जो कुछ हुआ वो उपन्यास.

hindi@pratilipi.com
+91 8604623871
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.