हाल ही में हॉलीवुड के बाद बॉलीवुड में अपनी सफलता का परचम लहराकर भारत लौटी सुपरस्टार प्रियंका चोपड़ा ने एक ऐसी बात कह दी कि एक बार फिर से बॉलीवुड सितारों के अंधविश्वासों पर चर्चा शुरू हो गई । प्रियंका चोपड़ा ने बातों बातों में बुरी नजर की बात कहकर सबको चौंका दिया । प्रियंका ने कहा कि जब भी कोई उनकी तारीफ करता है तो वो बेहद डर जाती हैं । उन्होंने कहा कि हजारों साल से हमारे देश में टोने टोटके, अंधविश्वास की परंपरा चली आ रही है और उससे अछूता रहना संभव नहीं है । प्रियंका के मुताबिक वो भी परंपराओं के इस अंधविश्वास पर कई बार यकीन कर लेती हैं । उन्होंने बताया कि जब भी कोई उनकी ज्यादा तारीफ करने लगता है तब उनको डर लग जाता है कि कहीं उनको किसी की नजर ना लग जाए । उन्होंने माना कि तकनीक के इस युग में जहां विज्ञान इस तरह के अंधविश्वासों को नकारता है वहां वो कई बार खुद को अंधिविश्वास के भंवर में फंसी पाती हैं । उन्होने कहा कि बुरी नजर पर उनका यकीन है और ज्यादा तारीफ से उनको लोकप्रियता कम हो जाने का डर सताने लगता है । बुरी नजर के खौफ से की वजह से वो अपनी छोटी सी कामयाबी की चर्चा किसी से नहीं करती हैं । उनको लगता है कि जब वो किसीकामयाबी की चर्चा करेंगी तो लोग उनकी तारीफ करने लग जाएंगे और जहां तारीफ हुई नहीं कि बुपी नजर का साया पड़ा । उन्होंने माना कि वो अपनी हिफाजत करना जानती हैं लिहाजा बहुत सतर्क सहती हैं । अब आप ही कल्पना करिए कि इतनी कामयाब लड़की जो देश विदेश घूमती है, अनेक तरह के लोगों से मिलती है लेकिन उसको भी बुरी नजर का जर लगता है । बुरी नजर से डरनेवाली प्रियंका चोपड़ा इकलौती बॉलीवुड स्टार नहीं हैं बल्कि विपाशा बसु तो उससे एक कदम आगे हैं । इन दिनों विपाशा बासु और उनकी प्रेग्नेंसी को लेकर खूब चर्चे हो रहे थे लेकिन उन्होंने इस खबर से इंकार कर दिया है । बिपाशा तो बुरी नजर के साए से इतना डरती हैं कि वो वो हर शनिवार को नींबू और मिर्च खरीदती हैं और उसको अपनी गाड़ी में लटकाती हैं । उनको लगता है कि वो ऐसा करके बुरीनजर को अपने आसपास फटकने नहीं देंगी । विपाशा कहती हैं कि ये टोटके उसने अपनी मां से सीखे हैं और उसका ये भी विश्वास है कि शनिवार को नींबू और मिर्च का फॉर्मूला कभी फेल नहीं होता है । वो तो अपने दोस्तों को भी ऐसा करने की सलाह देती चलती हैं । बिपाशा और प्रियंका का बुरी नजर से बचने का अपना अपना फंडा है । कहा तो विद्या बालन के बारे में भी जाता है कि वो घर से बाहर निकलने के पहले काजल जरूर लगाती हैं । काजल भी वो एक खास ब्रांड का इस्तेमाल करती हैं । हमारे देश में खासकर हिंदी भाषी समाज में यह माना जाता है कि काजल लगाने से या फिर काला टीका लगाने से बुरी नजर का साया नहीं पड़ता है । विद्या इस पाकिस्तानी ब्रांड के काजल को अपने लकी भी मानती हैं । काजल को लेकर जिस तरह से पर्टीकुलर हैं उसको देखते हुए इस तरह की अटकलें और जोर पकड़ती हैं ।


बालीवुड सितारे ऋतिक रोशन भी अंधविश्वास के जकड़न में नजर आते हैं । उनके बारे में कहा जाता है कि जब भी वो हवाई यात्रा करते हैं तो दही चीनी खाकर ही घर से निकलते हैं । दही चीनी खाकर घर से निकलने का हमारे समाज में बहुत पुराना रिवाज है । माना जाता है कि दही चीनी खाकर घर से निकलने पर इच्छित कार्य पूरा होता है या फिर शुभ होता है । ऋतिक इसी अंधविश्वास को मानते हैं । कई बार तो यह भी देखा गया है कि घर से निकलने के बाद भी लोग दही चीनी खाने वापस लौटते हैं । अगर भूलवश बगैर दही चीनी खाए निकल गए और याद आया तो लौट आते हैं और फिर थोड़ी देर घर पर बैठकर दही चीनी खाकर निकलते हैं जैसे घर से पहली बार निकल रहे हों । तरह तरह के टोटके दही चीनी को लेकर हमारे समाज में व्याप्त हैं । अंधविश्वासों को लेकर बॉलीवुड में इतने किस्से हैं कि लगता नहीं है कि कोई सितारा इससे बच पाया है । अक्षय कुमार के बारे में कहा जाता है कि वो अपनी किसी फिल्म के रिलीज होने के वक्त भारत में नहीं रहते हैं । यह उनका टोटका है । उनको लगता है कि जिस भी फिल्म के रिलीज के वक्त वो देश में रहते हैं तो उनकी फिल्म उतना अच्छा बिजनेस नहीं कर पाती है, लिहाजा वो अपनी फिल्मों के रिलीज के वक्त देश से बाहर ही रहना पसंद करते हैं । इसी तरह सलमान खान भी अरने ब्रेसलेट को लेकर खासे सजग रहते हैं । उनके पिता ने उनको एक ब्रेसलेट दिया था जिसमें फिरोजी रंग का पत्थर लगा हुआ है । सलमान का टोटका है कि जिस भी फिल्म कीशूटिंग के वक्त उन्होंने ये ब्रेसलेट पहना था वो फिल्म जबरदस्त हिट रहती है । रोल चाहे जैसा भी सलमान हर फिल्म में ये खास ब्रेसलेट पहने नजर आते हैं । इसी तरह से एक और सुपरस्टार शाहरुख खान को 555 नंबर को लेकर खास लगाव है । ये सभी जानते हैं कि शाहरुख सिगरेट पीते हैं लेकिन इस नंबर से उनका कोई लेना देना नहीं है वो तो उस नंबर को अपने लिए लकी मानते हैं और अपनी सभी गाड़ियों का नंबर यही रखते हैं । अगर आपको याद हो तो चेन्नई एक्सप्रेस के पोस्टर पर जिस स्कूटर का इस्तेमाल किया गया था उसके नंबर प्लेट पर भी पांच सौ पचपन ही लिखा था । सदी के महानायक भी इन टोटकों से बच नहीं पाए हैं । वो इंडिया का क्रिकेट मैच लाइव नहीं देखते हैं उनको लगता है कि उनके देखने से टीम इंडिया के विकेट जल्दी जल्दी गिरते हैं । इन सबको तो देखकर यही लगता है कि जो जितना सफल होता है उसको इन टोटकों में ज्यादा यकीन होता जाता है । जो नेता जितने ऊंचे पद पर पहुंचता है उसके हाथ की उंगलियों में अंगूठियों की संख्या बढ़ती जाती हैं । टोटके और अंधविश्वास का सफलता से गहरा नाता है ।

hindi@pratilipi.com
+91 8604623871
सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करें।
     

हमारे बारे में
हमारे साथ काम करें
गोपनीयता नीति
सेवा की शर्तें
© 2017 Nasadiya Tech. Pvt. Ltd.